न्यूयॉर्क: महिला डॉक्टर की गोली मारकर हत्या, 6 लोग भी हुए घायल

यौन उत्पीड़न के आरोप के चलते अस्पताल से इस्तीफा देने वाले एक डॉक्टर ने रायफल ले कर वापस अस्पताल में आकर एक महिला डॉक्टर की गोली मारकर हत्या कर दी और छह अन्य लोगों को भी घायल कर दिया। । इसके बाद उसने (बंदूकधारी ने) खुद को भी मार डाला। अधिकारियों ने बताया कि हेनरी बेलो (45) ने ब्रॉन्क्स लेबनान हॉस्पिटल में घुस एक महिला फिजीशियन की हत्या कर दी और छह अन्य लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया, जिनमे डॉक्टर भी शामिल है। पुलिस अधिकारियों ने बताया के बेलो ने सफेद रंग का डॉक्टरों वाला कोट पहना था और उसके पास आईडी भी था। उनको आशंका है कि उसने हथियार अपने कोट के अंदर छुपा रखा था।
न्यूयॉर्क पुलिस विभाग के अधिकारियों ने बेलो को अस्पताल के फर्श पर पड़ा पाया, उसके शरीर पर गोली का निशान था । ऐसा लगता है कि उसने स्वयं को गोली मारी थी। प्रतीत होता है कि उसने खुद को आग लगाने की कोशिश की थी लेकिन अस्पताल का फायर अलार्म बज उठा था। अस्पताल की 17वीं मंजिल पर महिला डॉक्टर का शव मिला और हमले में इस्तेमाल की गई राइफल भी उसके पास मिली।
सीएनएन के अनुसार अस्पताल में चिकित्सक-इन-चीफ श्रीधर चिलीमूरी ने कहा कि बंदूकधारी अंधाधुंध गोली चला रहा था जिसमें पीड़ितों को गोली लग गई।
न्यूयॉर्क सिटी के मेयर बिल डी ब्लैसिओ ने गोलीबारी को एक ‘‘वास्तविक त्रासदी’’ करार दिया। उन्होंने कहा कि घटना कोई ‘‘आतंकी कृत्य नहीं है’’ और यह एक ‘‘कार्यस्थल संबंधी मामला’’ प्रतीत होता है। लेकिन इससे यह कम दुखद या कम भयानक नहीं हो जाता।
‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की रिपोर्ट के अनुसार कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगने के बाद बेलो ने फरवरी 2015 में इस्तीफा दे दिया था।
वर्ष 2004 में बेलो को यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 23 वर्षीय एक लड़की ने उस पर यौन शोषण का आरोप लगाया था