जहरीली शराब कांड : माफिया ऋषि शर्मा ने पुलिस रिमांड में खोले कई राज, सात नए नामों के किये खुलासे, रडार पर अलीगढ के कई लोग

अलीगढ | जहरीली शराब काण्ड में अब नये नाम सामने आए रहे हैं | 108 मौतों के सौदागर ऋषि शर्मा ने शुक्रवार को रिमांड के पहले दिन कई राज उगले हैं। सात ऐसे नामों का खुलासा किया है जो शराब के अवैध धंधे में तो शामिल रहे लेकिन सफेदपोश बने रहे। वहीं तालानगरी से विजेन्द्र कपूर सहित गैर जनपदों से एल्कोहल की सप्लाई होने की भी बात ऋषि ने कबूली। विजेन्द्र को बचाने के लिए शुरूआत में सांसद सतीश गौतम ने खड़े हुए थे। माना यह भी जा रहा है कि अलीगढ पुलिस के रडार पर कई लोग हैं और जल्द कई बड़े खुलासे हो सकते हैं |

जहरीली शराब बेचने वाले मौत के सौदागर व शराब तस्कर गैंग के मुखिया एक लाख के इनामी ऋषि शर्मा को पुलिस ने तीन दिन के रिमांड पर ले रखा है। शुक्रवार को ऋषि को पहली बार पुलिस ने रिमांड पर लिया। सुबह रिमांड पर लेने के बाद शराब माफिया ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। कई राज उजागर किए हैं। जेल भेजे जाने के बाद सात ऐसे नामों का खुलासा हो चुका है तो इस अवैध शराब के धंधे को बढ़ावा देने में सक्रिय थे। अब तक की पूछताछ में ऋषि ने अवैध धंधे में अल्कोहल व पैकिंग उत्पाद सप्लाई के कुछ नए ठिकाने बताए हैं। ऋषि ने स्वीकारा है कि तालानगरी में फैक्ट्री चलाने वाले विजेंद्र कपूर के अलावा गैर जनपद से भी उन्हें अल्कोहल मिलता था। इसके अलावा उसने कुछ अन्य नाम भी अब तक की पूछताछ में बताए हैं।

वहीँ, इस बाबत एसएसपी कलानिधि नैथानी ने कहा है कि शराब कांड के मुख्य आरोपी ऋषि शर्मा से रिमांड पर लेकर पूछताछ जारी है। पूछताछ में उसने कई नए बिंदुओं का खुलासा किया है। पुलिस टीम उस पर काम कर रही हैं।

आखिर वह सात नामों का कितना बड़ा नेटवर्क-
शराब माफिया ऋषि ने शराब कांड में सात नए नामों का खुलासा किया है। सूत्रों के अनुसार इन सातों नामों का काफी बड़ा नेटवर्क फैला हुअ है। पुलिस अब इन नामों के आधार पर दुबारा तफ्तीश में जुटी है।