भाजपा को हराने के लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस का दलबदल घोटाला, उमा भारती की पार्टी के 15 जिलाध्यक्ष शामिल करने का ऐलान

भोपाल । मप्र कांग्रेस कमेटी ने दावा किया है कि भारतीय जनशक्ति पार्टी के 15 जिला अध्यक्ष आज कमलनाथ जी के समक्ष उनके निवास पर पहुंचकर कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए, उनके समर्थक भी कांग्रेस में शामिल हुए। बता दें कि भारतीय जनशक्ति पार्टी की संस्थापक उमा भारती हैं जिन्होंने अपनी पूरी पार्टी का विलय भाजपा में कर दिया था। अब भारतीय जनशक्ति पार्टी अस्तित्व में ही नहीं है। 02 दिसम्बर 2011 शुक्रवार को विधानसभा में इसकी घोषणा भी हो चुकी है। जो पार्टी अस्तित्व में ही नहीं है, उसके जिलाध्यक्ष कैसे । यह तो दलबदल घोटाला है।

कांग्रेस ने प्रेस रिलीज जारी कर बताया है कि भारतीय जनशक्ति पार्टी के जो जिलाध्यक्ष कांग्रेस में शामिल हुए हैं, उनमें केशव व्यास भिण्ड, मनोज शर्मा मुरैना, रवेन्द्र तिवारी ग्वालियर, रामगोपाल शर्मा शिवपुरी, राजेन्द्र रघुवंशी अशोक नगर, उमाकांत तिवारी सागर, मानवेन्द्र यादव टीकमगढ़, बी.डी. शर्मा सिंगरौली, गोपाल सिंह दरबार शाजापुर, नरेन्द्र शर्मा राजगढ़, लक्ष्मणसिंह तोमर इंदौर, सुरेश सोनी दतिया, रंजना त्रिपाठी उमरिया, देवेन्द्र गुप्ता गुना और दतिया के पूर्व जिला अध्यक्ष अनिल भार्गव शामिल हैं। इनके साथ समर्थकगण श्रीमती शशि भार्गव, चंद्रेश राजपूत, मकसद खां भी शामिल थे।

इसके अलावा सवर्ण समाज पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री एवं प्रदेश प्रभारी इंजीनियर आर.पी. श्रीवास्तव, राष्ट्रीय महासचिव डाॅ. संजय मेहरोत्रा और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डाॅ.नईम आगा ने भी कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।