योगीराज : पहले ही दिन Lucknow Metro फेल, इमरजेंसी गेट से उतारे यात्री, सपाइयों को यात्रा से रोका , देखें वीडियो

लखनऊ | सीएम योगी ने अखिलेश द्वारा नींव रखी मेट्रो का मंगलवार को उद्घाटन तो कर दिया लेकिन पहले ही दिन मेट्रो के पहिये जाम हो गए | घंटेभर तक मेट्रो बीच रस्ते में खड़ी रही और यात्री बेहाल हो गये | बाद में इमरजेंसी गेट से बमुश्किल यात्रियों को निकाला गया |   मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल ही लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी दिखाई थी। आज से मेट्रो आम जनता के लिए शुरु कर दी गई है। लेकिन पहले ही दिन मेट्रो पर ब्रेक लग गया है। तकनीकी खराबी की वजह से आज एक मेट्रो खराब हो गई। पिछले करीब एक घंटे से ये मेट्रो आलमबाग स्टेशन पर खड़ी है। इस मेट्रो में LMRC के MD समेत कई बड़े अधिकारी भी सफ़र कर रहे हैं। एक मेट्रो के खराब हो जाने से कई और ट्रेन भी लेट हो गई हैं।

लखनऊ के लोग सुबह 6 बजे से लेकर रात के 10 बजे तक मेट्रो का आनंद उठा सकते हैं। शुरुआती चरण में मेट्रो से ट्रांसपोर्ट नगर से लेकर चारबाग तक के बीच सफर किया जा सकता है। 8.5 किलोमीटर के इस सफर में अधिकतम 30 रुपए तक चुकाने होंगे। वहीं कार्ड की सुविधा भी शुरु की गई है। ये कार्ड मेट्रो के सभी स्टेशनों पर उपलब्ध रहेंगे। स्मार्ट कार्ड के लिए 200 रुपए देने होंगे। लखनऊ मेट्रो परियोजना की शुरूआत 2013 में अखिलेश यादव सरकार ने की थी। लखनऊ में क़रीब 23 किलोमीटर में मेट्रो चालने की रूपरेखा बनायी गयी, जो लखनऊ के ऐयरपोर्ट से मुंशीपुलिया इलाक़े तक चलनी है। इसके बीच में कृष्णानगर, आलमबाग़, चारबाग़, हज़रतगंज, इंदिरनगर हैं।

लोग मेट्रो के पहले दिन ही ख़राब होने पर योगी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया पर  जमकर तंज कस रहे हैं | वहीँ सपा छात्र सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष संदीप सिंह स्वर्णकार सहित दर्जनों छात्र छात्राओं को मेट्रो में यात्रा नहीं करने दी गयी जिसे लेकर जमकर हंगामा भी हुआ |