प्रेमिका के ऊंचे शौक पूरे करने के लिए अलीगढ में प्रेमी बन गया चोर, कर डाली ये वारदात-

अलीगढ | अलीगढ़ के सासनी गेट थाना क्षेत्र की विवेक विहार कॉलोनी में स्थित एक मूर्ति ढलाई फैक्ट्री में बुधवार रात को हुई चोरी का पुलिस ने दो चोरों को दबोच कर खुलासा कर दिया है। दबोचे गए चोरों में से एक ने कबूला कि उसने अपनी प्रेमिका के ऊंचे शौक पूरे करने के लिए तीन साथियों संग मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। घटना में शामिल उसके दो साथी अभी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है। वहीं गिरफ्तार अभियुक्तों को जेल भेज दिया गया है।

एसपी सिटी अभिषेक के मुताबिक कमल टाक पुत्र मोहनलाल निवासी नई बस्ती, सासनी गेट के विवेक विहार कॉलोनी में किराए के भवन में संचालित मूर्ति ढलाई कारखाने से बुधवार रात को पीतल चोरी हो गई थी। पुलिस तफ्तीश में इस वारदात को अंजाम देने के पीछे हर्ष उर्फ मन्नू, यश उर्फ मोंटू, निमेष कुमार और चंद्र विजय यादव का नाम सामने आया। इनमें से हर्ष और यश को गिरफ्तार कर लिया गया। हर्ष ने पूछताछ में बताया कि उसकी एक प्रेमिका है, जिसके खर्चे पूरे करने के लिए उसने साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। चोरी से पहले मूर्ति ढलाई कारखाने की कई बार रेकी की गई थी।

कारखाने से पीतल चोरी करने के बाद उसे सहारा रेजीडेंसी की पार्किंग में खड़ी एक खराब कार में छुपाया गया था। एसपी सिटी के मुताबिक निशानदेही पर सात कुंतल माल बरामद कर लिया गया है। हर्ष और यश को जेल भेज दिया है। वहीं, उनके साथी निमेष और चंद्र विजय यादव की तलाश में पुलिस की टीम लगा दी गई है।