एक साथ चुनाव का प्रस्ताव क्षेत्रीय राजनीति खत्म करने की कोशिश : लालू यादव

पटना। लालू प्रसाद यादव ने नीति आयोग के उस प्रस्ताव को जिसमें लोकसभा और राज्यसभा के चुनाव एकसाथ कराने की बात कही गई है, क्षेत्रीय राजनीति को खत्म करने की कोशिश बताया है। अपने बयानों से अक्सर चर्चा में रहने वाले राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष ने यह बात एक समाचार एजेंसी को दिए गए बयान में कही।
बता दें कि साल 2024 से लोकसभा और राज्य विधानसभाओं के चुनाव एकसाथ कराने का सुझाव नीति आयोग ने दिया है जिससे प्रचार मोड’ के कारण शासन व्यवस्था में पड़ने वाले व्यवधान को कम किया जा सके। इस संबंध में विस्तृत जानकारी का उल्लेख करते हुए नीति आधारित इस थिंक टैंक ने कहा कि इस प्रस्ताव को लागू करने से अधिकतम एक बार कई विधानसभाओं के कार्यकाल में कुछ कटौती या विस्तार करना पड़ सकता है।
नीति आयोग ने निर्वाचन आयोग को इस पर ध्यान देने को कहा है और एकमुश्त चुनावों की कार्य योजना तैयार करने के लिए संबंधित पक्षकारों का एक कार्य समूह गठित करने का सुझाव दिया। इस मामले में छह माह के अंदर रिपोर्ट को अंतिम रूप दिया जाना है और इसका अंतिम खाका अगले मार्च तक तैयार होगा। इस मसौदा रिपोर्ट को 23 अप्रैल को नीति आयोग के गवर्निंग काउंसिल के सदस्यों के बीच प्रसारित किया गया था। इन सदस्यों में सभी राज्यों के मुख्यमंत्री और अन्य लोग शामिल हैं। यह सिफारिश इस लिहाज से अहम है क्योंकि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराने की वकालत कर चुके हैं।
-एजेंसी