कोई बैलगाड़ी तो कोई ई-रिक्शा से पहुंचा विधानसभा

लखनऊ । उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के पहले सत्र के पहले दिन जहां विधानसभा में विपक्षियों के हंगामे के बीच सदन में क्रिकेट मैदान जैसा माहौल दिखा। वहीं ऐसे भी कुछ किस्से हुए जो चर्चा में छाए रहे। इन्हीं में किस्सों में रहे बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक का विधान भवन परिसर में ई-रिक्शा से आना और सत्ता दल भाजपा के विधायक का बैलगाड़ी से आना।

झांसी के गरौठा से भाजपा विधायक जवाहर लाल राजपूत सोमवार को विधान भवन परिसर में बैलगाड़ी लेकर पहुंचे। बैलगाड़ी को बकायदा फूलों से सजाया गया था। दो सफेद बैलों को को भी मालाएं पहनाई गई थी। खुद को किसान बताने वाले विधायक राजपूत जब बैलगाड़ी लेकर विधासभा के मुख्यद्वार पर पहुंचे तो सुरक्षा कर्मी ही नहीं विधानसभा सदस्य भी हैरान हो गए और मुस्कराए बिना नहीं रह सके। हालांकि मुख्य द्वार पर वाहन पास को लेकर पहले परेशानी हुई।

लेकिन मामला सत्ता पक्ष के विधायक को होने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें जाने दिया। हालांकि बाद में बैल गाड़ी चालक को उसका किराया नहीं देने को लेकर मीडिया में खबरे में उड़ी, और ये भी चर्चा का विषय बन गई। इसी तरह विधानभवन में आज श्रावस्ती के भिनगा से बसपा विधायक मोहम्मद असलम राइनी ने विधानसभा के मुख्य द्वार तक का सफर ई-रिक्शा से तय किया। वह भी लोगों के बीच चर्चा का विषय बने रहे।