कासगंज हिंसा : पुलिस बोली जिन्दा है ‘राहुल’, माहौल बिगाड़ने के लिए किया जा रहा वायरल

उत्तर प्रदेश के कासगंज में फैली हिंसा के बीच अफवाह उड़ी थी कि राहुल उपाध्याय नाम के एक अन्य युवक की मौत हो गई है। इसके बाद से राहुल की मौत की खबर तस्वीर के साथ सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। लोगों ने राहुल को श्रद्धांजलि देना शुरू कर दिया है। हालांकि, यह खबर बिल्कुल फर्जी निकली है। आईजी संजीव गुप्ता ने वायरल खबर को फर्जी करार दिया है। उनका कहना है कि माहौल बिगाड़ने के लिए राहुल उपाध्याय की मौत की खबर वायरल की गई है। वह जिंदा है। पुलिस टीम ने उससे मुलाकात की है।

साथ ही बताया कि उसे एक खरोंच तक नहीं आई है। उसकी लंबी उम्र की कामना करें। उसे श्रद्धांजलि न दें। सोमवार को आईजी अलीगढ़ संजीव गुप्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर राहुल उपाध्याय नाम के युवक की मौत की खबरें अफवाह हैं। राहुल जिंदा है और सही सलामत है। पुलिस ने अफवाह फैलाने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया है।