सांड आ धमका मैदान में, भगाने के लिए अखिलेश यादव ने DGP को किया फोन

कन्नौज। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल के चुनाव क्षेत्र कन्नौज में गुरुवार को एक सांड ने मुसीबत खड़ी कर दी। सांड ने ऐसा उत्पात मचाया कि अखिलेश यादव और मायावती का हेलीकॉप्टर नीचे नहीं उतर पाने के कारण काफी देर तक आसमान में ही मंडराता रहा। उग्र सांड ने एक व्यक्ति को घायल भी कर दिया। आखिरकार अखिलेश को यूपी के डीजीपी को फोन करके मदद मांगनी पड़ी।कन्नौज के तिरवा में गुरुवार को मायावती और अखिलेश का हेलीकॉप्टर उतरने ही वाला था कि हेलीपैड पर एक सांड आ गया जिससे अफरा-तफरी मच गई

कन्नौज में अखिलेश की पत्नी डिंपल खुद चुनाव लड़ रही हैं। पंद्रह मिनट तक पुलिस सांड को भगाने के लिए दौड़ती रही। सांड भगाने के लिए कार्यकर्ता, फायर ब्रिगेड और पुलिस ने खासी मशक्कत की. सांड की वजह से हेलीकॉप्टर उतर नहीं सकता था।यह बात जब अखिलेश को पता लगी तो उन्होंने DGP ओपी सिंह को फोन किया। फोन पर अखिलेश यादव ने डीजीपी से कहा, कि हमारी सभा में कुछ लोग बाधा डाल रहे हैं।इसी बीच सांड भगाने के दौरान एक शख्श बुरी तरह घायल हो गया और सभा में भगदड़ जैसे हालात पैदा हो गए।आधे घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सांड़ को किसी तरह भगाया गया, तब प्रशासन की जान में जान आई। आधे घंटे देरी से पहुंचे अखिलेश ने सांड का जिक्र नहीं किया लेकिन सांड से घायल होने वाले शख्स को 23 तारीख के बाद सम्मानित करने का ऐलान जरूर कर दिया।

बाद में अखिलेश यादव ने इस हादसे को लेकर ट्वीट किया और सरकार को निशाना बनाया21 महीनों में हमने एक्सप्रेसवे बनाया था, लेकिन पिछले 2 सालों में जनता 5 करोड़ आवारा पशुओं से परेशान हो गई है।अगर सरकार राजनीतिक कार्यक्रमों में सांड को घुसने से नहीं रोक पा रही है, तो गरीब किसानों का क्या हाल हो रहा होगा यह बस वही जानते होंगे।उन्होंने आवारा पशुओं की समस्या को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा।