हनी ट्रैप : ISI की महिला मेजर भारतीय सैनिकों को ऐसे फंसाती हैं अपने जाल में-

फेसबुक के जरिये सेना के जवान सुरजीत से गोपनीय रिपोर्ट लीक करवाने वाली महिला पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की है। वह वहां मेजर रैंक की अधिकारी है। उसने भारतीय सैनिकों को अपने जाल में फंसाने और गोपनीय रिपोर्ट लेने के लिए 10 से 15 फर्जी फेसबुक आईडी बना रखे हैं। सभी आईडी पर अलग-अलग तस्वीरें भी लगा रखी हैं।

पहचान पत्र तक ले लेती है महिला
सैन्य सूत्रों की मानें तो महिला भारत के कई राज्यों में सैनिकों व अधिकारियों को अपने जाल में फांस चुकी है। वह सैनिकों को पहले फेसबुक पर दोस्त बनाती है फिर धीरे-धीरे उनसे जानकारियां हासिल करती है। यहां तक कि वह जवानों से उनका परिचय पत्र तक ले लेती है।

लखनऊ में सुरजीत पर चल रही कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी
दानापुर छावनी के सैनिक सुरजीत सिंह को भी विश्वास में लेने के लिए उसने खुद को झारखंड का बताया था। महिला व सैनिक के बीच संपर्क उजागर होने के बाद सेना ने सुरजीत को सब एरिया से तत्काल हटाते हुए उसे लखनऊ बुलाया। बताया जाता है कि सुरजीत के खिलाफ लखनऊ में कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी चल रही है। घटना प्रकाश में आने के बाद सेना में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। सैनिक से लेकर अधिकारी तक इस संदर्भ में कुछ भी बोलने से बचने लगे हैं।

जांच में और भी खुलासे होंगे
सेना की जांच में अभी और भी खुलासे होंगे। यह पता लगाया जा रहा है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की महिला ने किन-किन सैनिकों से बातचीत की थी। फेसबुक के अलावा और किस तरह से वह जवानों से संपर्क साधती थी। उसके कौन-कौन मोबाइल नंबर हैं। उन नंबरों पर किस-किस ने बात की है। सेना की जांच टीम इन सभी पहलुओं पर बारीकी से जांच कर रही है।