आयकर का छापा, जांच एजेंसियों के रडार पर एक और इत्र व्यापारी, कन्नौज में याकूब के घर चल रही छापेमारी

कन्नौज। उत्तर प्रदेश में इन दिनों इत्र व्यापारियों को लेकर जांच एजेंसियां लगातार सक्रिय हो गई हैं। इत्र व्यापारी पीयूष जैन के यहां से करोड़ों रुपए बरामद होने के बाद जांच एजेंसियों के रडार पर कई और व्यापारी हैं। इसी कड़ी में कन्नौज में एक और इत्र व्यापारी मोहम्मद याकूब के यहां जांच एजेंसियों ने छापेमारी की है। जानकारी के मुताबिक याकूब के यहां से 4 से 5 करोड़ रुपए मिले हैं। इसके अलावा सोना भी बरामद हुआ है। इससे पहले शुक्रवार को भी मोहम्मद याकूब के यहां छापेमारी की गई थी। कन्नौज में कई व्यापारियों के ठिकानों पर शुक्रवार से लगातार आयकर विभाग की छापेमारी जारी थी।

बताया जा रहा है कि जांच एजेंसियों ने मोहम्मद याकूब के घर नोट गिनने के लिए मशीन भी मंगवाई थी। फिलहाल इनकम टैक्स अभी भी विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी कर रहा है। याकूब के छोटे भाई मोहम्मद मलिक के कई ठिकानों पर भी छापेमारी की गई है। दोनों भाइयों का कारोबार कई शहरों में पसरा हुआ है। इससे पहले इनकम टैक्स की टीम ने कन्नौज में सपा एमएलसी पुष्पराज जैन उर्फ पंपी के ठिकानों पर भी छापेमारी की थी। इसको लेकर समाजवादी पार्टी लगातार भाजपा पर निशाना साध रही है और कह रही है कि सत्तारूढ़ पार्टी डर गई है और यही कारण है कि लगातार केंद्रीय एजेंसियों का दुरूपयोग कर छापेमारी कराई जा रही है।

आपको बता दें कि हाल में कानपुर और कन्नौज में शिखर पान मसाला, एक ट्रांसपोर्टर और अन्य के खिलाफ छापेमारी की थी। मामले में इत्र व्यापारी पीयूष जैन को गिरफ्तार किया गया और 197 करोड़ रुपये से अधिक नकद धन राशि के अलावा 26 किलोग्राम सोना और भारी मात्रा में चंदन का तेल जब्त किया गया। आयकर विभाग केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के तहत कार्य करता है। पीयूष जैन और पुष्पराज जैन के आवासीय परिसर कन्नौज में महज कुछ मीटर की दूरी पर हैं।