IMF चीफ ने कठुआ मामले को बताया ‘वीभत्स’, महिला सुरक्षा को लेकर मोदी को दी नसीहत

नई दिल्ली | भारत में आठ साल की एक बच्ची से बलात्कार के बाद उसकी जघन्य हत्या को वीभत्स करार देते हुए अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्ड ने उम्मीद जताई है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित सभी भारतीय पदाधिकारी इस पर ज्यादा ध्यान देंगे। लगार्ड ने यह टिप्पणी ऐसे समय में की है जब जम्मू-कश्मीर के कठुआ और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बलात्कार के मामलों पर देशव्यापी आक्रोश है। आईएमएफ की प्रबंध निदेशक ने कहा कि (भारत में) जो कुछ हुआ है वह वीभत्स है। मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शुरू कर सभी भारतीय पदाधिकारी इस पर ज्यादा ध्यान देंगे क्योंकि भारत में महिलाओं के लिए यह जरूरी है।

लगार्ड ने कहा कि मैं जब पिछली बार दावोस में थी तो प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के बाद मैंने उनसे कहा था कि उन्होंने भारत की महिलाओं का पर्याप्त रूप से जिक्र नहीं किया। और सवाल सिर्फ उनके बारे में बातें करने का नहीं है।

उन्होंने तुरंत स्पष्ट किया कि यह आईएमएफ की नहीं बल्कि उनकी निजी राय है। लगार्ड ने कहा कि वैसे यह आईएमएफ की आधिकारिक राय नहीं है। यह मेरी राय है। बता दें कि कठुआ में आठ साल की बच्ची से हुए बलात्कार को लेकर पूरे देश में गुस्सा है। लोग सड़कों पर उतर इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और इंसाफ की मांग कर रहे हैं।