इलाहाबाद जंक्शन से प्रयाग एवं रामबाग तक के ट्रैक को डबल करने के दिए निर्देश

शशांक मिश्रा:- कुम्भ 2019 के आयोजन को आवागमन की दृष्टि से सुगम और सुखद बनाने की लगातर कवायदों में इलाहाबाद प्रशासन के साथ–साथ रेलवे प्रशासन भी कंधे से कंधा मिलाकर बराबर गति से चलने लगा है। पिछले दिनों महाप्रबन्धक, एन.सी.आर. के विन्ध्य सभाकक्ष में मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल के नेतृत्व में इलाहाबाद प्रशासन के साथ रेलवे प्रशासन की एक समन्वय बैठक हुयी थी। जिसमे रेलवे और इलाहाबाद प्रशासन के बीच कुम्भ आयोजन से सम्बन्धित सभी निर्माण कार्यो, यातायात व्यवस्थाओं और रेलवे सम्बन्धी अवस्थापना विकास के सभी मुद्दों पर सहमति बनाकर कार्य करने की योजना बनायी गयी थी तथा रेलवे बोर्ड के चैयरमेन अश्वनी लोहनी के साथ इलाहाबाद प्रशासन एवं रेलवे प्रशासन की निर्धारित एक संयुक्त बैठक में तमाम बिन्दुओँ पर विचार होना था। आज एन.सी.आर. महाप्रबन्धक उत्तर मध्य रेलवे के सूबेदारगंज स्थित विन्ध्य सभागार में उक्त बैठक सम्पन्न हुयी। इस बैठक में इलाहाबाद मे कुम्भ के दौरान आने वाले यात्रियों की सुगमता, सुरक्षा एवं संरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए कई निर्णय लिये गये।

बैठक में रेलवे की ओर से एक प्रेजेंटेशन पिछली बैठक के आधार पर अध्यक्ष के सम्मुख प्रस्तुत किया गया जिसमें एक-एक कर इलाहाबाद प्रशासन और रेलवे के निर्माण कार्यो की रणनीति अध्यक्ष रेलवे बोर्ड द्वारा गहराई से समझते हुए तत्समय ही कई मामलों पर निर्णय लिये गये तथा सहमति भी दी गयी। मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल द्वारा इलाहाबाद में स्थित तीनों जोन के स्टेशनों को एक जोन के अन्तर्गत कर दिये जाने के प्रस्ताव पर अध्यक्ष द्वारा सहमति जताते हुए यह कहा गया कि शीघ्र ही फिलहाल सभी जोनों को एक साथ नियंत्रित करने के लिए दो अधिकारी रेलवे की ओर से नियुक्त किये जायेंगे, जो सभी जोनो तथा प्रशासन के मध्य समन्वय के सभी मुद्दों के निर्णय लेने के लिए सक्षम एवं अधिकृत होंगे। अध्यक्ष रेलवे बोर्ड लोहनी द्वारा यह आश्वस्त किया गया कि शीघ्र ही सभी जोन के स्टेशनो को एक जोन में करने पर भी निर्णय लिया जायेगा तथा इलाहाबाद के सभी जोनों की रेलवे सम्पत्तियां एक रंग में रखी जायेगी।इलाहाबाद जंक्शन रेलवे स्टेशन के दोनों तरफ प्रवेश प्रारम्भ करने पर भी विचार करने का आश्वासन दिया गया। अध्यक्ष द्वारा यह भी निर्देश दिया गया कि कुम्भ मेले में आने वाले यात्रियों की सुविधा की दृष्टि से स्टेशन के गेटों को गंतव्य स्थानों के नाम से चिन्हित एवं निर्धारित करते हुए उन्हे अलग-अलग रंगो से दर्शाने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया जिससे यात्रिगण अपने गंतव्य से सम्बन्धित गेट से ही स्टेशन में प्रवेश करे तथा सम्बन्धित प्लेटफार्म पर ही पहुंचे। इससे एक ही प्रवेश द्वार पर भीड़ को ठहरने से बचाया जा सकेगा।

इस बैठक में अध्यक्ष रेलवे बोर्ड के साथ महाप्रबन्धक उत्तर मध्य रेलवे, उत्तर रेलवे एवं उत्तर पूर्व रेलवे के शीर्ष अधिकारी तथा इलाहाबाद प्रशासन की ओर से मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल के नेतृत्व में एडीजी एस.एन.साबत, आईजोन रमित शर्मा तथा कई प्रमुख अधिकारीगण उपस्थित थे।