हर रोज अपने आस-पास हो रहे अपराध तो ऐसे रहें सावधान…

जनसंख्या और क्षेत्रफल की दृष्टि से दिल्ली और केरल यूपी से कहीं आगे हैं क्राइम रेट रेशियो में दिल्ली सबसे ऊपर है जहां प्रत्येक एक लाख की जनसंख्या पर 974 अपराध होते हैं जो कि भारत के किसी भी महानगर से कहीं ज्यादा हैं पिछले साल की तुलना में 2016 में महिलाओं के खिलाफ अपराधों में भी 2.9 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। देश के बड़े शहरों में अपराध लगातार बढ़ रहे हैं रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि साल 2015 के मुकाबले 2016 में अपराध का ग्राफ ढाई फीसदी ज्यादा बढ़ा है रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं और बच्चों के खिलाफ हुए अपराध में उत्तर प्रदेश सबसे अव्वल है।

ऐसे में अगर आप अपनी सुरक्षा की अनदेखी करेंगे तो यह बहुत बड़ी भूल साबित हो सकती है घर-बाहर कहीं भी रहें हमेशा सतर्क और सजग रहें। आइए जानते हैं कि किस तरह से हम कुछ छोटी-छोटी चीजों को ध्यान में रखकर खुद को सेफ रख सकते हैं।

घर पर क्या करें-
जब भी हम घर पर रहते हैं तो बहुत ही लापरवाह हो जाते हैं इस मौके का फायदा उठाकर कुछ अपराधी वारदात को अंजाम दे देते हैं इसलिए घर पर जब भी रहें तो सुरक्षा का खास ख्याल रखें सभी दरवाजों को लॉक करें साथ ही किसी अजनबी को घर में प्रवेश नहीं करने दें अपने घर के ताले की चाबियां नौकरों के हाथ में ना दें अगर घर में अकेले हैं तो रेडियो या फिर टीवी चलाएं जिससे किसी को आपके घर पर अकेले होने का अंदाजा ना हो।

एलिवेटर में-
एलिवेटर में जाते वक्त कॉर्नर में खड़े ना रहें हमेशा दरवाजों के पास खड़े रहें ताकि जरूरत पड़ने पर आप तुरंत बाहर निकल सकें लिफ्ट में किसी अजनबी के साथ बहुत अनकंफर्टेबल महसूस कर रहे हैं तो बाहर निकल जाएं।
कई बार उदारता दिखाना महंगा भी पड़ सकता है इसलिए सूनसान सड़कों पर कोई भिखारी या विकलांग व्यक्ति आपसे कुछ मांग रहा है तो आप नजरअंदाज करें।

कार या पार्किंग में होने पर-
कई लोगों की आदत होती हैं कि वे शॉपिंग रेस्ट्रोरेन्ट या ऑफिस से लौटने के बाद सीधे कार में बैठ जाते हैं ऐसा नहीं करें आप अपनी कार में बैठने से पहले थोड़ा सतर्क रहें अगर अकेले ड्राइव करके कहीं जा रहे हैं तो कार के लॉक ठीक तरह से बंद कर दें किसी को भी लिफ्ट ना दें कहीं रात में निकलने से पहले कार की टंकी फुल करा लें तो अच्छा होगा अगर आप पार्किंग एरिया में खड़े हैं और उसके बगल में कोई बड़ी वैन है तो पैसेंजर डोर से कार में बैठिए कार में बैठते वक्त सामने वाली वैन से आपकी किडनैपिंग की कोशिश हो सकती है।
रास्ते में-

अगर आप किसी रास्ते से गुजर रहे हैं और आपको लग रहा है कि कोई आपका पीछा कर रहा है तो आप तुरंत अपनी दिशा बदल लीजिए सूनसान रास्तों पर अकेले जाने से बचना चाहिए हमेशा अपने सेलफोन को चार्ज करके घर से निकलें।
शॉपिंग मॉल में-

किसी मॉल या भीड़भाड़ वाली शॉप में अजनबियों से हमेशा दूरी बनाकर चलें रास्ते या भीड़भाड़ वाली जगहों पर अपने मोबाइल में बिजी ना रहें बल्कि मोबाइल और पैसे अपने पर्स में रखें।
बाहर एक्सरसाइज करने के दौरान-

बाहर वॉकिंग या जॉगिंग करते समय ईयरफोन नहीं लगाएं खासकर ज्यादा वॉल्यूम पर गाने नहीं सुने ऐसा करने पर अगर कोई आपके नजदीक आएगा तो आपको एहसास नहीं होगा इससे लोगों को यह भी पता चल जाता है कि आप अपने आस-पास की चीजों से बिल्कुल बेखबर हैं जिसका फायदा कोई आराम से उठा सकता है।
डेटिंग या सोशल इवेंट में-

युवा लड़कियों को डेटिंग पर जाने के दौरान भी सावधानियां बरतनी चाहिए डांसफ्लोर या रेस्टरूम से आने के बाद छोड़कर गई हुई ड्रिक को कभी नहीं पिएं बारटेंडर से नई ड्रिंक मांग लें जब पहली बार किसी के साथ डेट पर जा रहे हो तो किसी पब्लिक प्लेस पर ही मिलें आपको उस शख्स के बारे में और उस जगह के बारे में जरूर पता कर लेना चाहिए।
कहीं भी अकेले निकलें तो-

खतरा भांपने पर अपनी भावनाएं नज़रअंदाज़ मत करे अमेरीका में नॉर्थ कैरालाइना प्रदेश के एक पुलिस विभाग का सुझाव है अगर आपको किसी व्यक्‍ति का बर्ताव अच्छा नहीं लग रहा या किसी जगह में रहने से झिझक महसूस हो रही है, तो जल्द-से-जल्द वहाँ से निकल जाइए खतरा भांपने पर ऐसी जगह मत रुकिए किसी के दबाव में आकर भी नहीं।

आत्म-विश्‍वास से काम लीजिए और सतर्क रहिए अपनी हवस को पूरा करने के लिए अपराधिक तत्व लोग खासकर उन लोगों को अपना शिकार बनाते हैं जो सीधे-साधे होते हैं और सतर्क नहीं रहते हैं इसलिए अपने चलने के तरीके से अपना आत्म-विश्‍वास ज़ाहिर कीजिए।