नागरिकता कानून: जामिया में 5 जनवरी तक अवकाश घोषित, सभी परीक्षाएं स्थगित

नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ विश्वविद्यालय में जारी प्रदर्शन के मद्देनजर जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पांच जनवरी तक अवकाश घोषित किया है। नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के कारण विश्वविद्यालय में हालात तनावपूर्ण होने के मद्देनजर सभी परीक्षाएं स्थगित की गईं।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शुक्रवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों का मार्च रोकने के कारण प्रदर्शनकारियों और पुलिस में झड़प हो गयी थी। प्रदर्शनकारी विश्वविद्यालय से निकलकर संसद भवन की ओर जाना चाह रहे थे। शनिवार को होने वाली परीक्षा की तिथि का एलान बाद में किया जाएगा। मिलिया विश्वविद्यालय इसकी सूचना बाद में देगा।

दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में शुक्रवार को उस समय माहौल गंभीर हो गया था जब छात्र नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन पुलिस और उनके बीच झड़प हो गई। यह प्रदर्शन जामिया से होकर पार्लियामेंट की ओर जाना था लेकिन छात्रों को कैंपस में ही रोक दिया गया। छात्र नारे लगाते हुए आगे बढ़ रहे थे तभी पुलिस ने उन्हें रोका। जिसके बाद पुलिस और छात्रों के बीच में कहासुनी हो गई। उसके बाद पुलिस ने छात्रों के ऊपर टीयर गैस का इस्तेमाल किया। वहीं पुलिस का कहना है कि छात्रों ने पथराव शुरू किया जिसके बाद स्थिति को संभालने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया।