रहना है स्वस्थ तो मजे मजे में करें यह एक्सर्साइज

मजे-मजे में वर्कआउट, यही है इस साल का फिटनेस फंडा। दरअसल, इस साल ऐसी फिटनेस एक्सर्साइज ट्रेंड में हैं, जिनमें कम समय में ज्यादा कैलरीज बर्न हो। तो हम भी आपको बता रहे हैं ऐसे ही 4 लीक से हटकर एक्सर्साइजेज के बारे में जो 2018 में ट्रेंड में रहेंगे |

मसाला भांगड़ा: आमतौर पर शादियों के समय किया जाने वाला भांगड़ा डांस इस साल पहुंचा चुका है जिम में, लेकिन एक नए स्टाइल के साथ। जिम के लिए खासतौर से लाया गया है मसाला भांगड़ा। यह स्पेशली बॉडी वर्कआउट करने लिए बनाया गया है। मसाला भांगड़ा बॉलिवुड म्यूजिक पर किया जाता है।

यह न सिर्फ एंजॉयमेंट का सबसे अच्छा ऑप्शन है, बल्कि फिटनेस लेवल पर भी आपके लिए काफी अच्छा है। फिजिशन डॉ. अतुल कहते हैं कि डांस एक्सर्साइज कोई भी हो, तनाव को मिनटों में खत्म करता है। मसाला भंगड़ा भी एक ऐसी एक्सर्साइज है, जिसमें आप कितने भी तनाव में हों चुटकियों में खत्म हो जाएगा। यही नहीं, डांस आपको ऐक्टिव रखने के साथ ही फिट भी रखता है। दरअसल, यह हाई इंटेनसिटी में किया जाता है, जिससे वेट कम करने में बाकी एक्सर्साइज से ज्यादा असरदायक है।

जुंबा: जुंबा बेस्ट कार्डियो है। जिम ट्रेनर सुनील बताते हैं कि जुंबा फिटनेस प्रोग्राम 14 प्लस एज ग्रुप के लोग जॉइन कर सकते हैं। इसकी खासियत है कि लोग इसे एंजॉय भी करते हैं और मजे-मजे में वर्कआउट भी कर लेते हैं। यह एक घंटे में तकरीबन 500 से 600 कैलरीज बर्न कर देता है। जुंबा के मूवमेंट बॉडी के हर पार्ट पर जोर देते हैं, जिससे वह हिस्सा टोंड होने लगता है। जुंबा फिटनेस प्रोग्राम 3 तरह का होता है। एक है जुंबा सेन्टॉय, यह चेयर्स के साथ करते हैं और स्ट्रेंथ के लिए होता है। दूसरा है जुंबा ऑन स्ट्रैप, इसे स्ट्रैपर के ऊपर करते हैं और यह लॉयर बॉडी की स्ट्रेंथ के लिए होता है। इसके बाद है ऐक्वा जुंबा, यह स्वीमिंग पूल के अंदर किया जाता है।

बॉलिवुड वर्कआउट: बॉलिवुड वर्कआउट हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग में आते हैं। इस वर्कआउट से भी काफी मात्रा में कैलरीज बर्न होती है। इस वर्कआउट का म्यूजिक भी काफी एनर्जेटिक होता है इसलिए कैलरीज घटाने में यह भी खूब काम आता है। अगर एक महीना कोई अच्छी तरह बॉलिवुड वर्कआउट कर लेता है, तो 2-3 इंच वेट साइज में कम हो जाता है। यह फुल बॉडी टोनिंग करता है। कई लोग सोचते हैं कि डांस नहीं आता तो नहीं कर सकते लेकिन बॉलिवुड वर्कआउट का सिस्टम ऐसा बनाया हुआ है कि इसे कोई भी 2 दिन में ही करना शुरू कर सकता है। यह ईजी टू डू वर्कआउट है। इससे पॉजिटिव वाइब्स मिलती हैं।

साइकलिंग: साइकलिंग एक बार फिर फिटनेस ट्रेंड के जरिए वापसी कर रही है। साल 2018 में साइकलिंग काफी पॉप्युलर रहने वाली है या यूं कहें कि लोग साइकलिंग करके ज्यादा से ज्यादा कैलोरीज बर्न कर पायेंगे। साल 2017 में भी साइकलिंग काफी पॉप्युलर रही थी लेकिन एक्सपर्ट्स का मानना है कि साइकिल आने वाले साल में भी लेटेस्ट फिटनेस ट्रेंड में टिकी रहेगी।
-एजेंसी