PM मोदी अपना नाम बदल कर इंदिरा गाँधी रख लेते तो पाकिस्तान चीन के साथ मिलकर हमें लाल आँख करके ना दिखा रहा होता : अलका लांबा

नई दिल्ली | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कांग्रेस लगातार हमलावर है | अब गुजरात में इंदिरा गाँधी भवन को तोड़कर नरेंद्र मोदी भवन बनाने के फैसले पर कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है | अलका लांबा ने दो टूक कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी अपना नाम बदल कर इंदिरा गाँधी रख लेते तो आज पाकिस्तान चीन के साथ मिलकर हमें लाल आँख करके ना दिखा रहा होता | अलका लांबा का यह ट्वीट वायरल हो रहा है |

अलका लांबा ने ट्वीट कर प्रतिक्रिया देते हुए लिकगा कि-‘प्रधानमंत्री मोदी जी अपना नाम बदल कर इंदिरा गाँधी रख लेते तो आज पाकिस्तान चीन के साथ मिलकर हमें लाल आँख करके ना दिखा रहा होता. गाँधी नाम के प्रति कुंठा से ग्रसित BJP और उसके नेता

अलका लांबा ने एक ट्वीट में लिखा कि- आज़ादी की जंग में #RSS का रोल और आज के दौर में गोदी मीडिया का रोल- कोई भुलाए नहीं भूल पायेगा. संघी,अंग्रेजों की गुलामी करते करते स्वाभाविक मौत मर गए, ठीक वैसे ही आज संधियों (सत्ता) की गुलामी करते करते गोदी मीडिया भी कुदरती मौत मरेगा. देश तब भी आज़ाद हुआ – देश अब भी आज़ाद होगा

एक अन्य ट्वीट में अलका लांबा ने कहा – ब्यान-वीर BSP की बहनजी, ज़रा भाजपा का चश्मा उतरा कर देखिये, पहले आपको कॉंग्रेस द्वारा पंजाब में एक दलित को मुख्यमंत्री बनाने पर आपत्ति हुई, अब आपको महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर भी आपत्ति हो रही है – हम तो अब तक BJP को ही दलित/महिला विरोधी समझते थे.