मनोहर पर्रिकर: गोवा में बीफ की कमी नही होने देंगे, विहिप ने माँगा इस्तीफा

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार को बीफ पर बड़ा बयान दिया है. राज्य विधानसभा में बोलते हुए मनोहर पर्रिकर ने सूबे की जनता को आश्वस्त किया कि बीफ की कमी नहीं होने देंगे. सदन में मनोहर पर्रिकर ने बताया कि कर्नाटक से बीफ आना जारी रहेगा ताकि बीफ की कमी न हो सके. इसके लिए पर्रिकर ने दूसरे राज्यों से भी बीफ मंगाने का आश्वासन दिया. बीजेपी विधायक के सवाल का जवाब देते हुए मनोहर पर्रिकर ने सदन को जानकारी देते हुए बताया कि गोवा के एकमात्र बूचड़खाने में हर रोज लगभग 2,000 किलोग्राम बीफ तैयार होता है. पर्रिकर ने कहा कि बीफ का संकट पैदा न हो इसलिए पड़ोसी राज्यों से पशुओं की खरीद जारी रहेगी. पर्रिकर ने बाहर से आने वाले बीफ की प्रॉपर जांच की बात भी कही.

पर्रिकर के इस बयान पर अब विश्व हिंदू परिषद ने उनसे इस्तीफे की मांग की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक वीएचपी ने यह मांग उठाई है। बता दें सोमवार (17 जुलाई) को अलीगढ़ में हुई एक सभा में संगठन के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भी कहा था कि उनका संगठन गौरक्षकों को गौवध रोकने के लिए सभी जरूरी सामान मुहैया कराएगा। तोगड़िया ने देशभर में गौवध पर बैन लगाने की भी मांग उठाई। बता दें पर्रिकर ने गोवा विधानसभा में कहा था, “हमने बेलगाम (कर्नाटक में) से मांस आयात करने का विकल्प बंद नहीं किया है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि यहां कोई कमी नहीं हो।” पर्रिकर ने मांस आयात करने की बात भाजपा विधायक नीलेश कबराल के एक सवाल के जवाब पर कही। उन्होंने कहा, “मैं आपको भरोसा दे सकता हूं कि पड़ोसी राज्य से आने वाले बीफ की जांच उचित तरीके से और अधिकृत चिकित्सक द्वारा की जाएगी।” पर्रिकर ने यह भी कहा कि यहां से करीब 40 किलोमीटर दूर पोंडा स्थित गोवा मीट कांप्लेक्स में राज्य के एकमात्र वैध बूचड़खाने में रोजाना लगभग 2,000 किलोग्राम बीफ तैयार होता है।