युवती ने कुत्ते की मौत से दुखी होकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बड़ी बात-

रायपुर | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से कुछ दूर गोरखा गांव से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि 23 वर्षीय छात्रा को अपने कुत्ते से बहुत प्यार था और हाल में उसकी मौके के बाद से वह काफी दुखी थी। इसके चलते ही युवती ने आत्महत्या करने जैसे बड़ा कदम उठाया। पड़ोसियों के अनुसार, युवती अपने कुत्ते से काफी लगाव था और वह उसके मरने पर काफी दुखी थी। आत्महत्या के बाद युवती का अंतिम संस्कार गांव के बाहर किया गया जबकि कुत्ते को पास के ही एक खेत में दफनाया गया।

कुत्ते से था काफी गहरा लगाव –
सब इंस्पेक्टर दीपक भारद्वाज के अनुसार, 17 नवंबर की रात को करीब नौ बजे 5 वर्षीय कुत्ते की मौत हो गई। वह काफी लम्बे समय से बीमार था। इसके बाद से ही परिवार काफी दुखी था। रात एक बजे लड़की अपनी बहन के साथ सोने चली गई, लेकिन सुबह जब घरवालों ने देखा तो उसने पहले मंजिल पर आत्महत्या कर ली थी।

बाबू के साथ दफनाना –
लड़की कुत्ते को प्यार से बाबू कहकर बुलाती थी। लाश के साथ मिले सुसाइड नोट में युवती ने अपने माता-पिता को आखिरी इच्छा बताते हुए लिखा, ‘मेरी अंतिम इच्छा है कि मुझे जलाया न जाए और मेरे बाबू के साथ मुझे दफनाया जाए। मम्मी-पापा अपना ख्याल रखना।’ लड़की की मौत के बाद जहां घर वाले काफी दुखी और परेशान हैं। वहीं गांव में काफी तनाव है। लड़की एम कॉम की पढ़ाई कर रही थी और खाली समय में गांव के बच्चों को भी पढ़ाया करती थी।