गौ-हत्या के मुद्दे पर लोकसभा में हंगामा, 6 कांग्रेस सांसद सस्पेंड

संसद के मानसूत्र सत्र में कांग्रेस के सांसदों का हंगामा जारी है। कांग्रेस सांसदों ने सदन की कार्यवाही में बाधा पहुंचाई। सोमवार को सदन की कार्यवाही के दौरान विपक्षी सांसदों ने बोफोर्स गन केस के संबंध में केंद्र की हालिया कार्रवाइयां, भीड़ द्वारा लोगों के साथ मारपीट और नीट के मुद्दे पर लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा किया और सख्त कदम उठाने की मांग करते हुए स्पीकर के आसन तक पहुंच गए। गो हत्या के मुद्दे पर चर्चा के दौरान हंगामा करने पर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने 6 सांसदों को 5 दिन के सस्पेंड कर दिया है। जिन सदस्यों को सस्पेंड किया गया है, उनमें जी. गोगोई, अधिरंजन चौधरी, के सुरेश रंजीत रंजन, सुष्मीता देव और एमके राघवन शामिल हैं। कांग्रेस सांसदों ने शून्य काल के दौरान कागज के टुकड़े फेंके और सदन की कार्यवाही में बाधा उत्पन्न की। लोकसभाध्यक्ष ने सस्पेंड करने के बाद लोकसभा की कार्यवाही को 2.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।  लोकसभा में विपक्ष ने प्रश्न काल के दौरान गोरक्षा के नाम पर लोगों के पीट-पीटकर मारे जाने के मामले में सरकार के खिलाफ सदन में नारेबाजी की। हंगामा एक घंटे से ज्यादा समय तक जारी रहा। विरोध कर रहे कुछ कार्यकर्ताओं ने स्पीकर सुमित्रा महाजन पर कागज भी फेंके। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने स्पीकर से सवाल पूछते कहा कि क्यों भीड़ द्वारा बढ रहे हमले और गाय अतिसतर्कता पर उनके स्थगन प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया गया। उन्होंने जोर देते हुए कि जब देश में दलितों, अल्पसंख्यकों और महिलाओं पर इस तरह के हमले बढ़ जाएं तो यह समाज में हाशिए पर पड़े वर्गों की रक्षा के लिए सरकार की ओर से विफलता का स्पष्ट मामला था| केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता अनंत कुमार ने विपक्ष पर जवाबी हमला करते हुए कहा कि देश में गाय की पूजा होती है और गाय की रक्षा की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि गाय के नाम पर होने वाले अपराध को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कांग्रेसी सांसदों की ओर से सदन में हंगामे के दौरान पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहें