AP के विशाखापट्टनम में गैस लीक, 11 की मौत, सीएम ने किया 1 करोड़ की मदद का ऐलान

विशाखापट्टनम | आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम के आर.आर. वेंकटपुरम गांव में एक प्लांट से कैमिकल गैस के लीक होने के बाद गुरुवार को कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई है।मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने इस घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 1 करोड़ रुपये की सहायति राशि देने का ऐलान किया है। गैस कांड के चलते जिन लोगों का वेंटिलेटर पर इलाज चल रहा है उन सभी लोगों को 10 लाख रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा, अन्य लोगों को जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है लेकिन वे वेंटिलेटर पर नहीं हैं उन सभी को 1-1 लाख रुपये दिए जाएंगे।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस घटना के बाद करीब हजार से ज्यादा लोगों ने खुद को अस्वस्थ बताया है। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विशाखापट्टनम जिला मेडिकल एंड हेल्थ ऑफिसर तिरूमाला राव ने कहा, विशाखापट्टन में गैस लीक होने के चलते 300 लोगों को कई अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इस घटना के बाद राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सख्ती दिखाते हुए केन्द्र और राज्य सरकार को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है।

गैस कांड़ के पीड़ितों का हाल जानने के लिए खुद राज्य के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी किंग जॉर्ज अस्पताल पहुंचे। अधिकारियों ने बताया कि यह प्लांट गोपालपट्टनम इलाके में स्थित है। इस इलाके के लोगों ने आंखों में जलन, सांस लेने में तकलीफ, जी मचलाना और शरीर पर लाल चकत्ते पड़ने की शिकायत की। इस मामले पर पीएम मोदी भी निगरानी रख रहे हैं। पीएम मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी से बात की है और उन्हें हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है।