AMU में ड्यूटी सोसाइटी के कॉर्डिनेटर पर फायरिंग, फीस को लेकर हुआ विवाद

अलीगढ़ । एएमयू के कंप्यूटर साइंस विभाग के ड्यूटी सोसाइटी ऑफिस कोआर्डिनेटर पर फीस कम कराने आए दो युवकों ने गुरुवार शाम फायरिंग कर दी। इस दौरान कोआर्डिनेटर ने साहस का परिचय देते हुए एक आरोपी को तमंचे सहित दबोच लिया, जबकि उसका साथी भाग गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। दूसरे आरोपी की तलाश की जा रही है। पकड़ा गया आरोपी एएमयू का पूर्व छात्र है। दूसरा साथी वर्तमान में एएमयू छात्र है और एक प्रोफेसर का बेटा बताया गया है।

शाम करीब 6:30 बजे कोआर्डिनेटर मजहर सिद्दीकी अपने दफ्तर में मौजूद थे। तभी दो युवक वहां आए और उनमें से एक ने मजहर को धमकाते हुए अपने किसी साथी की फीस कम कराने का दबाव बनाया। जब उसने बात मानने से इंकार कर दिया तो युवक किसी से फोन पर बात कराने के लिए मजहर पर दबाव बनाने लगे। इसी दौरान दोनों युवकों ने मजहर से हाथापाई शुरू कर दी। इसी बीच एक ने तमंचा निकालकर फायर कर दिया। हमले में मजहर बच गए और गोली उनके चैंबर व टेबिल में जा लगी। इस दौरान मजहर ने साहस दिखाते हुए एक को तमंचे सहित दबोच लिया और उसका साथी भाग गया।

सूचना पर प्रॉक्टर टीम व पुलिस पहुंच गई। सीओ तृतीय अनिल समोनिया के अनुसार पकड़े गए आरोपी ने अपना नाम नबील निवासी एफएम टॉवर क्वार्सी व साथी का नाम आदिल निवासी सरसैयद नगर सिविल लाइंस बताया। नबील के अनुसार वह एएमयू मिंटो सर्किल का छात्र रहा है, जबकि आदिल बीएएलएलबी का छात्र है और उसके पिता प्रोफेसर हैं। मजहर की तहरीर पर नबील पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आदिल की तलाश की जा रही है।