ईद के बाद होंगे यूपी में निकाय चुनाव, जून के पहले सप्ताह में लगेगी आचार संहिता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य राज्य निर्वाचन आयोग अधिकारी एसके अग्रवाल कहा कि जून के पहले सप्ताह तक निकाय चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी जाएगी चुनाव 8 जुलाई से पहले करा लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि चुनाव कई चरणों में होंगे साथ ही ये भी कहा कि चुनाव कितने चरणों में होंगे यह अभी तय नहीं है। उन्होंने कहा कि चुनाव की निष्पक्षता बनाए रखने के लिए अपराधियों, अराजक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी. इसके लिए जिलों के प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं।

अधिकारियों को विशेष अभियान चलाने को कहा गया है इस बार के निकाय चुनाव जल्द से जल्द कराए जाएंगे। निर्वाचन आयोग ने हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान ईवीएम से किसी प्रकार की छेड़छाड़ की संभावना को खारिज कर दिया। निर्वाचन आयोग ने घोषणा की कि भविष्य में होने वाले सभी चुनावों में वोटर-वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) मशीनों का इस्तेमाल किया जाएगा। सर्वदलीय बैठक के अंत में मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी ने राजनीतिक पार्टियों को ईवीएम को हैक करने की चुनौती भी दी जैदी ने कहा, आयोग ने राजनीतिक दलों के समक्ष कहा है कि भविष्य में जितने भी चुनाव होंगे, उनमें वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल करना अनिवार्य होगा.वहीं दूसरी ओर अग्रवाल ने स्पष्ट किया कि नगर निगम चुनाव ईवीएम से ही होगा क्योकि वोटर-वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल [वीवीपैट] मशीन अभी नहीं लग पाएगी। निर्वाचन आयोग ने वीवीपैट उपलब्ध कराने से मना कर दिया है। वहीं दूसरी ओर नगर पंचायतों में चुनाव बैलेट पेपर (मतपत्र) से होंगे।