19 अगस्त को ई-न्यायालय का उद्घाटन करेंगे न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर

शशांक मिश्रा/ इलाहाबाद | 19 अगस्त, 2017 को उच्च न्यायालय उ0प्र0 के इलाहाबाद और लखनऊ बेंच में दोनों स्थानों पर ई-न्यायालय का उद्घाटन किया जाना है। इस संबन्ध में व्यापक जानकारी देते हुये एक प्रेस वार्ता में उच्च न्यायालय इलाहाबाद के  न्यायमूर्ति दिलीप गुप्ता ने उ0प्र0 में ई-न्यायालय के शुभारम्भ की विस्तृत जानकारी मीडिया कर्मियों को दी। उच्च न्यायालय इलाहाबाद स्थित संेटर फाॅर इंफारमेशन टेक्नालाजी के सभागार में मीडिया कर्मियों की व्यापक उपस्थिति को संबोधित करते हुये न्यायधीश गुप्ता ने कहा कि उ0प्र0 में पहली बार ई-न्यायालय का शुभारम्भ किया जा रहा है। जिसमें न्यायकार्य संबन्धित समस्त व्यवस्थाएं पेपरलेस हांेगी न्यायकार्य में ई-न्यायालय का उद्घाटन 19 अगस्त, 2017 को सायं 05 बजे सर्वोच्च न्यायालय के माननीय न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर द्वारा किया जायेगा। इस ऐतिहासिक कार्य में उ0प्र0 सरकार भी बढ़ चढ़कर सहयोग कर रही है। अतः इस कार्यक्रम में उ0प्र0 शासन के मुख्य सचिव राजीव कुमार भी उपस्थित रहेंगे।
19 अगस्त को एक-एक ई-न्यायालय उच्च न्यायालय इलाहाबाद एवं उच्च न्यायालय लखनऊ के लिये मा0 न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर के कर कमलों से उच्च न्यायालय इलाहाबाद से ही उद्घाटित किये जायेंगे। इन न्यायालयोें में सूचना तकनीक के माध्यम से  सर्वाेच्च न्यायालय, सभी प्रान्तों के उच्च न्यायालयों और जिला न्यायालयों की समस्त जानकारी आॅनलाइन उपलब्ध रहेगी। इसके माध्यम से मुकदमों की अध्यावधिक स्थिति, पंजीकरण तथा अन्य जानकारियां भी आम आदमी  तथा वकीलों के लिये उपलब्ध रहंेगी।
न्यायमूर्ति दिलीप गुप्ता ने यह जानकारी दी है कि उ0प्र0 में ई-न्यायालय की शुरूआत प्रदेश में न्याय प्रक्रिया को तीव्रतम करने में नींव का पत्थर बनेगी तथा क्रमशः उच्च न्यायालय से लेकर जनपदस्तरीय न्यायालयों को तेजी से ई-न्यायालयों में परिवर्तित किया जायेगा यह सूचना प्रौद्योगिकी का युग है जिसमें इस तकनीक का उपयोग करके न्याय प्रक्रिया को त्वरित बनाया जाना समय की एक अनिवार्य मांग है। इस पर पहल करते हुये उच्च न्यायालय, इलाहाबाद 21 अगस्त से ई-न्यायालय के माध्यम से कार्य करना प्रारम्भ कर देगा।
उच्च न्यायालय इलाहाबाद के कक्ष सं0-09 से ई-न्यायालय का शुभाम्भ किया जायेगा तथा इससे संबन्धित समारोह मुख्य न्यायाधीश उ0प्र0 के कक्ष में आयोजित किया जायेगा। उक्त प्रेस वार्ता में न्यायमूर्ति दिलीप गुप्ता के साथ न्यायमूर्ति अंजनी कुमार मिश्रा एवं जिलाधिकारी संजय कुमार तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनन्द कुलकर्णी उपस्थित रहे।