डीएम : हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल थे हजरत गुलजार शाह

उत्तर प्रदेश ।शैखुल औलिया हजरत गुलजार शाह के सालाना उर्स एवं मेले का उदघाटन बावे जफर गेट पर जिलाधिकारी डॉ सारिका मोहन ने फीता काटकर किया उन्होंने बाबा के आस्ताने पर गागर के साथ चादर चढ़ाकर अकीदत के फूल पेश किये। इस मौके पर डॉ सारिका मोहन ने कहा कि बाबा हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल थे उन्ही के आशीर्वाद एवं पुण्य प्रताप से कस्बे में गंगा जमुना तहजीब कायम है। बाबा की मजार पर सभी धर्मो के लोग अकीदत के फूल पेश करने आते है।

सभी को बाबा के बताये आदर्शों का अनुसरण करना चाहिए। पूर्व सपा जिलाध्यक्ष शमीम कौशर सिद्दीकी ने कहा कि बिसवां नगरी सूफी संतों ऋषियों मुनियो की धरती है बाबा की दरगाह पर सभी धर्मों के लोग माथा टक्कर मन्नते मांगते है और आशीर्वाद प्राप्त करते है। बाबा ने जीवन भर कौमी एकता और भाईचारे के संदेश देश व दुनिया को दिया।

जिलाधिकारी डा0 सारिका मोहन का मेला कमेटी की तरफ से स्वागत किया। इस मौके विधायक महेंद्र यादव, उपजिलाधिकारी अतुल श्रीवास्तव, तहसीलदार नीरज पटेल, नायब तहसीलदार बालेंदु भूषण, जाहिद अली, शरीफ अंसारी, मेला अध्यक्ष जमील अहमद खान, मास्टर मंजूर, हाजी इरशाद अली, आलोक गुप्ता फिरोज कौशर सिद्दीकी नय्यर शकेब मंजूर अहमद मुबारक अली संतोष कठेरियाए महताब आलम, अब्दुल जब्बार, आदि लोग उपस्थित रहे। अंत मे आये हुए सभी मेहमानों का शुक्रिया मेला सचिव नसीम अंसारी ने अदा किया।