ट्विटर पर ट्रेंड हुआ ‘देशद्रोही के साथ अलीगढ़ DM’, फिर भी नहीं हुई सुनवाई, खिसियानी बिल्ली की तरह खीझ उतार रहे भाजपाई

अलीगढ । जिलाधिकारी अलीगढ के खिलाफ भाजपाइयों ने मोर्चा खोल रखा है लेकिन खुद की ही सरकार में लाचार बने हुए हैं । खिसियानी बिल्ली की तरह ट्विटर और सोशल मीडिया पर डीएम के ख़िलाफ़ ट्रेंड चला रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही । नुमाइश में खोले गए फूड कोर्ट के उद्घाटन के दौरान अलीगढ़ मुसलिम विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन के साथ मंच साझा करने पर जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ट्विटर पर टॉप ट्रे़ंड में आ गए। देर रात साढ़े दस बजे तक हैशटेग के खिलाफ ‘अलीगढ़ डीएम विद एंटीनेशनल’ ट्रेंड हुआ । इस ट्रेंड पर करीब पांच हजार रीट्वीट किए गए हैं । ट्रेंड पर शनिवार देर रात को डीएम की ओर से स्पष्टीकरण जारी करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ और सीएम कार्यालय को ट्वीट किया गया। जिसमें साफ कहा गया कि शासन की मंशा के अनुरूप ही काम किया गया है ।

बताते चलें कि भाजपा के पूर्व जिला मीडिया प्रभारी डॉ. निशित शर्मा ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री को एक पत्र भेजकर कहा था कि अलीगढ़ नुमाइश में बृहस्पतिवार को जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने फूड कोर्ट का उद्घाटन किया था। सीडीओ अनुनय झा एवं अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। इस कार्यक्रम में एएमयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन भी डीएम के साथ था। शिकायत के अनुसार फैजुल हसन ने बतौर निशित शर्मा देश को बर्बाद करने की धमकी दी थी। वह गृहमंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा नेताओं के विरुद्ध भी आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुका है। नागरिका संशोधन कानून की आड़ में हिंसा फैलाने का आरोप भी फैजुल हसन पर है। उन्होंने शिकायत को ट्विट भी किया था। यह ट्विट जैसे ही जिले में वायरल हुआ, इसके बाद रीट्विट होना शुरू हो गया। शनिवार तक यह मामला हैशटेग के साथ ‘अलीगढ़ डीएम विद एंटीनेशनल’ के साथ इंडिया में टॉप ट्रेंड में रहा।

हालांकि ट्विटर पर ट्रेंड और शिकायत के बावजूद योगी सरकार ने कोई एक्शन नहीं लिया है । भाजपाई सोशल मीडिया पर पर खीझ निकालकर जनप्रतिनिधियों को कोस रहे हैं । कोई सुनवाई फिर भी नहीं हुई । वहीं, जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह का कहना है कि शासन की मंशा के अनुसार बोरोजगार को रोजगार देने के उद्देश्य से अलीगढ़ महोत्सव में सुहैल मुसर्रत नाम के व्यक्ति को आयोजक के रूप में फूड कोर्ट खोलने के लिए अनुमति दी गई है।