नुमाइश में DM व सीडीओ के साथ दिखे AMU के विवादित छात्र नेता, भाजपाइयों को लगी मिर्ची, CM योगी से की शिकायत

अलीगढ | नुमाइश में एक कार्यक्रम को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है | सीएए आंदोलन का आरोपी और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष व विवादित छात्र नेता फैजुल हसन के साथ मंच साझा करने पर जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह एवं मुख्य विकास अधिकारी अनुनय झा की शिकायत मुख्यमंत्री से की गई है। भाजपा नेता ने सीएम से शिकायत करके परिवर्तन की मांग की है | अपनी ही सरकार में भाजपा नेता बेबस और निरीह नजर आ रहे हैं और शिकायत कर खीझ उतार रहे हैं | सोशल मीडिया पर अलीगढ के लोग जमकर चुटकी ले रहे हैं | जिससे भाजपाइयों को मिर्ची लगी है |

शुक्रवार को भाजपा के पूर्व जिला मीडिया प्रभारी डॉ. निशित शर्मा ने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में कहा है कि नुमाइश में बृहस्पतिवार को जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने फूड कोर्ट का उद्घाटन किया था। मंच पर मुख्य विकास अधिकारी अनुनय झा एवं एसीएम, द्वितीय रंजीत सिंह सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। इन्हीं के साथ एएमयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन भी उपस्थित थे। डॉ. निशित शर्मा का आरोप है कि फैजुल हसन ने देश को बर्बाद करने की धमकी दी थी। गृहमंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा नेताओं के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके हैं। नागरिका संशोधन कानून की आड़ में हिंसा फैलाने का आरोप भी फैजुल हसन पर है। निश्चित के पत्र से अलीगढ भाजपा में सनसनी व्यापत है |

वहीँ, फैजुल हसन ने कहा है कि डॉ. निशित शर्मा भाई की तरह हैं। मैं न तो देशद्रोही हूं और न देश के विरुद्ध काम करना चाहता हूं। अगर उनके मन में गलतफहमी है तो साथ बैठकर दूर की जा सकती है। अगर किसी भी मामले में मैं गलत हूं तो प्रशासन जब चाहे कार्रवाई कर सकता हैं। मैं छिपकर या भागकर नहीं रहता हूं।