दिल्ली डायलॉग के वाइस चेयरमैन पद से आप नेता का इस्तीफा

नई दिल्ली | दिल्ली सरकार के 9 सलाहकारों को हटाने का विवाद और बढ़ गया है। सलाहकारों के हटाने के विरोध में सीएम अरविंद केजरीवाल के करीबी और आप नेता आशीष खेतान ने नाराजगी जताते हुए दिल्ली डायलॉग कमीशन के वाइस चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि उन्होंने अपना इस्तीफा देने की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा है कि वह वकालत की प्रैक्टिस कर रहे हैं, इसलिए इस्तीफा दे रहे हैं। आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की सिफारिश के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मंगलवार को दिल्ली सरकार के 9 सलाहकारों को हटा दिया था। इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय ने स्पष्ट किया था कि सभी नियुक्तियां असंवैधानिक हैं। सामान्य प्रशासन विभाग की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री व कैबिनेट के लिए इस तरह का कोई पद नहीं है। दिल्ली सरकार ने इन नियुक्तियों से पहले केंद्र की इजाजत भी नहीं ली थी, जबकि कानूनन दिल्ली सरकार को नये पद के सृजन से पहले केंद्र से सलाह लेनी होती है। वहीं, गृह मंत्री के मई 2015 के नोटिफिकेशन में कहा गया है कि संवैधानिक रूप से दिल्ली में सर्विसेज आरक्षित विषय है।

विभागीय आदेश के मुताबिक, ऐसी हालत में दिल्ली कैबिनेट की तरफ से सृजित यह पद कानूनन सही नहीं हैं। इससे इन पदों के सृजन व नियुक्तियों के लिए निकाले गए सभी आदेश रद्द किए जा रहे हैं। बता दें कि आप सरकार के गठन के बाद अलग-अलग विभागों के साथ सलाहकारों की नियुक्तियां की गईं थीं। इन्हें सरकार से बाकायदा वेतन व दूसरी सुविधाएं भी मिल रही थीं। सरकार की दलील थी कि विशेषज्ञों की नियुक्ति से काम करने में सहूलियत होगी। लेकिन अब सभी 9 नियुक्तियों को निरस्त कर दिया गया है। हटाए गए दिल्ली सरकार के सलाहकार में राघव चड्ढा ( वित्त मंत्री के सलाहकार) भी थे।