दलितों के प्रति पीएम मोदी की नीयत साफ नहीं : मायावती

लखनऊ | आंबेडकर जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री मायावती ने बीजेपी सरकार पर करारा हमला बोला। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने और उनके नाम से योजनाएं बनाने से दलितों का भला नहीं होने वाला। बसपा सुप्रीमो शनिवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉफ्रेंस को संबोधित कर रहीं थी। बीजेपी को दलितों के प्रति दोहरे मापदंड अपनाने से बाज आना चाहिए। एससी- एसटी एक्ट मामले पर बसपा सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी सरकार की कमजोर पैरवी के चलते यह कमजोर हो गया है। उन्होंने इस कानून को मूल रूप में वापस लागू कराने के लिए बीजेपी सरकार से अध्यादेश लाने की मांग की। इस दौरान उन्होंने देशवासियों को आंबेडकर दिवस की बधाई दी साथ ही कहा कि प्रदेश में बीजेपी सरकार के आने से कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है।

प्रधानमंत्री मोदी पर दलितों के साथ पक्षपात करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी नियत साफ नहीं है, इसीलिए जब भी दलितों के हित की बात आती है, वह पीछे हट जाते हैं। कठुआ और उन्नाव में दुष्कर्म की घटनाओं पर भी मायावती ने बीजेपी सरकार की कठोर निंदा की और कहा कि दोनों ही मामलों में बीजेपी के विधायक कटघरे में है।