नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर आने-जाने वालों का हो रहा कोरोना टेस्ट, यात्रा पर कोई प्रतिबंध नहीं

नई दिल्ली | नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर रेंडम कोविड-19 टेस्टिंग को और बढ़ाया जा सकता है। गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने बुधवार को कहा कि स्वास्थ्य अधिकारियों ने बुधवार को दिल्ली-नोएडा-डायरेक्ट (DND) फ्लाईवे और चिल्ला में रेंडम कोविड-19 टेस्टिंग शुरू कर दी है। दिल्ली में पिछले दो हफ्तों में 90 हजार से अधिक नए मामले सामने आने और एक हजार से अधिक मौतें होने के चलते गौतम बौद्ध नगर के स्वास्थ्य अधिकारियों ने अपने यहां टेस्टिंग को बढ़ा दिया है।

डीएम ने रेंडम टेस्टिंग को एहतियाती उपाय बताते हुए कहा कि यह एहतियाती कदम है क्योंकि कोविड-19 मामलों में वृद्धि हुई है। बॉर्डर खुला है और कोई आवागमन पर प्रतिबंध नहीं है। स्थिति का आंकलन करने के लिए टार्गेटेड ग्रुप के रेंडम सैंपल लिए जा रहे हैं। ऐसा पहले भी किया जा चुका है और टेस्ट को और बढ़ाया जा सकता है।

डीएम ने मंगलवार को घोषणा की थी कि जिले के वरिष्ठ प्रशासन और स्वास्थ्य अधिकारियों की एक बैठक के बाद नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर लोगों की रेंडम कोविड-19 जांच शुरू करेंगे। डीएम ने कहा कि कोविड-19 के प्रसार का आकलन करने के लिए टेस्ट किए जा रहे हैं और डेटा का उपयोग उन नियोक्ताओं और संगठनों की मदद के लिए किया गया है जो गौतमबुद्ध नगर, दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों के बीच आवागमन करने वाले लोगों को रोजगार देते हैं।