अब मोदी सरकार का नारा ‘मर जवान, मर किसान’ : विवेक बंसल

अलीगढ | मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में क़र्ज़ माफ़ी की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहे किसानों पर पुलिस ने फायरिंग की जिसमे कई किसान मारे गये इस दुखद घटना के विरोध में आज अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल पूर्व विधायक के नेतृत्व में हजारों कांग्रेसजनों एवं किसानों के साथ विरोध प्रदर्शन किया |  रेलवे रोड स्थित कांग्रेस कार्यालय पर कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ता एकत्रित हुये कार्यक्रम के प्रारंभ में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व० राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रधांजलि दी गई उसके बाद कांग्रेसजनों ने भव्य जुलुस के रूप में कलेक्ट्रेट की और कूच किया |

जुलुस जब पुलिस अधीक्षक नगर के कार्यालय के सामने पहुंचा तो भारी संख्या में उपस्थित पुलिस ने जुलुस को रोक दिया तो विवेक बंसल ने वहां उपस्थित पुलिस अधिकारियों से वार्ता की तो उनके इनकार करने पर वे वहीँ सड़क पर धरने पर बैठ गये वहां उपस्थित भारी जनसमुंह को सम्बोधित करते हुये कहा कि भाइयो भाजपा और उनकी सरकारें किसानों के प्रति संवेदनशील नहीं हैं वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वायदा किया था कि किसानों की समस्या के लिये गठित स्वामीनाथन कमीशन की सिफारिशों को लागू किया जायेगा और उनके कर्जे माफ़ किये जायेंगे और ऐसा प्रावधान किया जायेगा जिससे 5 वर्ष में उनकी आमदनी दुगनी हो जायेगी लेकिन 3 वर्ष का कार्यकाल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार पूरा कर चुकी है लेकिन अभी तक एक भी काम ऐसा नहीं हुआ है जिससे कुछ आशा की किरण दिखाई दे भाजपा की सरकारें अपने विरोध में उठने वाली आवाज़ों को दमनात्मक कार्यवाही से दबा रही हैं |

उन्होंने कहा कि 1965 में कांग्रेस पार्टी ने नारा दिया जय जवान जय किसान और अब भाजपा की नरेन्द्र मोदी सरकार का नारा है मर जवान मर किसान, सीमा पर जवान शहीद हो रहे और देश के अन्दर किसान शहीद हो रहे हैं मैं अपने किसान भाइयों से अनुरोध करता हूँ कि वे अपना पूरा ध्यान अपनी खेती और फसलों पर दें और अपनी समस्याओं को कांग्रेस पार्टी पर छोड़ दें कांग्रेस पार्टी और उसके कार्यकर्ता उनकी लड़ाई को पूरी शिददत से लड़ेंगे | इस अवसर पर सोमवीर सिंह और आगा युनुस ने अपने संबोधन में केंद्र सरकार की भारी आलोचना की | कार्यक्रम के समापन पर मंदसौर गोलीकांड के विरोध में और अलीगढ में कांग्रेसजनों पर कायम कराये गये मुक़दमे को वापस लेने कि मांग करते हुये माननीय राष्ट्रपति को सम्बोधित एक ज्ञापन ए० सी० एम० प्रथम रामसूरत पाण्डेय को दिया इस कार्यक्रम का संचालन अखिलेश शर्मा ने किया |

इस अवसर पर उपस्थित लोगों में उ० प्र० कांग्रेस के उपाध्यक्ष सतीश शर्मा, तरन्नुम नकवी, निर्मला शर्मा, सबिया हसन, नफीस शाहीन, विजय लक्ष्मी सिंह, रुखसाना बेगम, बुन्दू खान, अमजद हुसैन, रिजवान खान, नाथूराम रसक, नौशाद कुरैशी, बद्री विशाल, देवेन्द्र द्वेदी, एस०एम०शेहरोज़, वाचस्पति शर्मा, अमित सिंह, मो० फारूख सभासद, दिनेश चन्द्र शर्मा, ज्ञान प्रकाश सक्सेना, राजवीर प्रजापति, सलीम टेलर, कमरुद्दीन चटनी, कन्हैया लाल माहौर, इन्द्रजीत सिंह पंडा, प्रेमपाल सैनी, एम०एल०पापा, मो० भूरा, राजकुमार चौहान, मुख़्तार खान, राजेंद्र भल्ले, शाहिद खान, कैलाश बी०डी०सी०, शाहरुख़ खान, वाजहतुल्लाह एड, रामगोपाल रैना मो० शानू आदि थे I