कांग्रेस का सूपड़ा साफ करने की दिशा में काम करने की जरूरत है -शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि गुजरात में आगामी विधानसभा चुनाव जीतने के स्थान पर उन्हें प्रदेश से कांग्रेस का सूपड़ा साफ करने की दिशा में काम करने की जरूरत है। पार्टी के कार्यकर्ताओं को मंगलवार शाम संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ चुनाव जीतने का सपना  देख रही है, लेकिन वह गुजरात में 1999 से ही भाजपा को कभी हरा नहीं सकी है। इस बार पार्टी कार्यकर्ता सिर्फ जीत के लिए नहीं, बल्कि कांग्रेस का सूपड़ा साफ करने के लिए लड़ेंगे।’

उन्होंने कहा, ‘आज सौराष्ट्र क्षेत्र के सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को 150 सीटों पर जीत के लिए शपथ लेनी चाहिए।’ गुजरात विधानसभा में कुल 182 सीटें हैं। केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तीन साल पूरे होने पर टिप्पणी करते हुए शाह ने कहा कि कोई विपक्षी दल राजग सरकार पर उंगली नहीं उठा सकता है। उन्होंने कहा, ‘यदि आप उंगलियों पर गिनें तो, किसी को विश्वास नहीं होगा की एक सरकार महज तीन साल में इतना काम कर सकती है।  प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हमारा देश दुनिया भर में नयी ऊंचाइयों को छू रहा है।’ ‘हमारे ऊपर उंगली उठाने से पहले, कांग्रेस नेताओं को आत्मावलोकन करने और यह देखने की जरूरत है कि उनकी सरकार ने अतीत में क्या किया है। अपने 10 साल के कार्यकाल में सोनिया-मनमोहन सरकार प्रत्येक महीने एक घोटाले में फंसी रही।’ शाह ने आरोप लगाया कि वे 12 लाख करोड़ रूपये कीमत के घोटालों और भ्रष्टाचार में शामिल रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं सोनिया जी से कहना चाहता हूं कि विपक्ष इन तीन वर्षों में एक भी आरोप नहीं लगा सकता है। मोदी सरकार ने भारत को भ्रष्टाचार मुक्त बनाकर उसे पारदर्शी शासन दिया है।’
उन्होंने मोदी की विदेश यात्राओं को लेकर भी कांग्रेस पर हमला किया। शाह ने कहा, ‘कांग्रेस नेता कमल नाथ ने हाल ही में कहा कि मोदी बहुत ज्यादा विदेश यात्राएं करते हैं। जब मैंने आंकड़े देखे तो पाया कि मोदी जी ने अपने पूर्ववर्ती प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मुकाबले कुछ ही यात्राएं ज्यादा की हैं।’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘हालांकि, कांग्रेस को लगता है कि मोदीजी ने ज्यादा यात्राएं की हैं। ऐसी इसलिए है क्योंकि लोग मोदीजी की विदेश यात्राओं पर चर्चा करते हैं। पहले, प्रधानमंत्री की ऐसी यात्राओं पर किसी का ध्यान नहीं जाता था। अब हजारों की संख्या में लोग मोदी का स्वागत करने के लिए जमा होते हैं और पूरी दुनिया हमारे प्रधानमंत्री पर ध्यान देती है।