उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने गठित की कमेटियां, जानें किसको क्या मिली जिम्‍मेदारियां

नई दिल्‍ली। कांग्रेस ने उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए स्क्रीनिंग कमेटियों का गठन किया है। इसमें मणिपुर में जयराम रमेश को चेयरमैन के तौर पर जिम्‍मेदारी दी गई है। वहीं गोवा में रजनी पाटिल को स्क्रीनिंग कमेटी का अध्‍यक्ष बनाया गया है। उत्तराखंड के लिए पूर्व महासचिव अविनाश पांडे की अध्यक्षता में स्क्रीनिंग कमेटी बनाई गई है। अजय कुमार और वीरेंद्र राठौर इस कमेटी में सदस्य होंगे। समाचार एजेंसियां की रिपोर्ट के मुताबिक इसमें पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पदेन सदस्य होंगे।

गोवा के लिए स्क्रीनिंग कमेटी में राज्यसभा सदस्य रजनी पाटिल अध्यक्ष बनाई गई हैं जबकि हिबी इडेन और ध्रुव नारायण इसमें बतौर सदस्य शामिल किए गए हैं। मणिपुर के लिए गठित स्क्रीनिंग कमेटी में पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश अध्‍यक्ष होंगे जबकि प्रद्युत बारदोलोई और रकीबुल हुसैन सदस्य बनाए गए हैं। तीनों स्क्रीनिंग कमेटियों में संबंधित राज्यों के प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और विधायक दल के नेता पदेन सदस्य होंगे।

बता दें कि विधानसभा चुनावों में स्क्रीनिंग कमेटियां कांग्रेस के लिए बहुत महत्‍वपूर्ण भूमिकाएं निभाती हैं। टिकट के बंटवारे में इनकी अहमियत बेहद खास होती है। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी हर सीट पर टिकट के लिए आवेदन करने वाले लोगों की दावेदारी पर विचार करने के बाद कुछ चुनिंदा लोगों के नाम केंद्रीय चुनाव समिति के पास भेजती है। केंद्रीय चुनाव समिति उम्मीदवार के नाम पर अंतिम मुहर लगाती है।

मालूम हो कि हाल ही में कांग्रेस ने गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश चुनाव समिति का भी गठन किया था। इसमें कांग्रेस की राज्य इकाई के कई वरिष्ठ नेताओं को शामिल किया गया था। गोवा प्रदेश चुनाव समिति की अध्यक्षता प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश चोडानकर करेंगे जिसमें पार्टी के राज्य प्रभारी दिनेश गुंडुराव, पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत समेत कुल 10 नेताओं को सदस्य के तौर पर रखा गया। इसमें चार नेताओं को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया था।