कोरोना के कहर पर बोलीं अलका लांबा- ‘कांग्रेस और राहुल गाँधी जी अपने लिए नहीं बल्कि लोगों के लिए केंद्र सरकार से लड़ रहे हैं, चुप बैठे रहे तो..

नई दिल्ली | देश में कोरोना की दूसरी लहर ने तबाही मचाई हुई है | कई राज्यों में हालत बेकाबू हैं और शमशान घाटों में लाइन लगी हुई है | मोदी सरकार हर मोर्चे पर फेल नजर आ रही है | वहीँ , यूपी में तो लखनऊ जैसे शहर में त्राहि त्राहि का आलम है | खुद सीएम योगी पॉजिटिव हैं | कोरोना के बदतर हालात पर कांग्रेस नेत्री अलका लांबा ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है | वहीँ, राहुल गाँधी की प्रशंसा की है | अलका लांबा ने कहा है कि जिनको अब तक समझ नहीं आया उम्मीद है उन्हें भी जल्द ही समझ आ जायेगा कि #कॉंग्रेस और राहुल गाँधी जी अपने लिए नहीं बल्कि लोगों के लिए केंद्र सरकार से लड़ रहे हैं |

अलका लांबा ने ट्वीट किया कि – जिनको अब तक समझ नहीं आया उम्मीद है उन्हें भी जल्द ही समझ आ जायेगा कि #कॉंग्रेस और राहुल गाँधी जी अपने लिए नहीं बल्कि लोगों के लिए केंद्र सरकार से लड़ रहे हैं, चुप बैठे रहे तो हालात यूँ ही बिगड़ते और हाथों से निकलते रहेगें – #लोगों की जान पर बन आई है, सब ओर हाहा कार मचा हुआ है |

अलका लांबा ने आगे लिखा कि- कॉंग्रेस नेता श्री राहुल गाँधी जी को देशहित में केंद्र सरकार को निरन्तर सुझाव देते रहना चाहिए, इस बात की परवाह किए बिना कि प्रधानमंत्री जी के “ट्रोल मंत्री मंडल” के सदस्य रविशंकर प्रसाद/ईरानी उन सुझावों पर कैसे पेश आते हैं. अंत में मानना ही पड़ेगा.

एक अन्य ट्वीट में अलका लांबा ने लिखा किउत्तराखंड के संघी मुख्यमंत्री के मुताबिक बंद कमरे में रहने से कोरोना फैलता है जैसे #AAP के मुताबिक मरकज वालों ने फैलाया, अजय बिष्ट जी आपको तो #MahaKumbhMela में डुबकी लगाने जाना चाहिए, वहीं पाप-कोरना धुलेंगे.