प्रयागराज में अकबर के किले में लगेगी मां सरस्वती की मूर्ति : CM योगी

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद से प्रयागराज हुए शहर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि जल्द ही अकबर के किले में सरस्वती जी और ऋषि भारद्वाज की मूर्ति लगेगी।

वहीं योगी आदित्यनाथ ने फैसला लिया है कि जनवरी 2019 में आयोजित होने वाले कुंभ मेले में अक्षयवट और सरस्वती कूप को खोल जाएगा। बताया जा रहा है कि ऐसा पहली बार होगा जब अक्षयवट और सरस्वती कूप को श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा जिसमें सभी मेले के बाद पूजा-पाठ कर सकेंगे। लखनऊ में आयोजित युवा कुंभ को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि साढ़े चार साल बाद कुंभ में लोग अक्षयवट और सरस्वती कूप को दर्शन कर पाएंगे। अकबर के किला बना देने के बाद इसके दर्शन बंद हो गए थे।

वहीं योगी ने कहा कि इस बार कुंभ में ऐसे इंतजाम किए जाएंगे कि एक मक्खी भी नजर ना आए। साथ ही आजादी के बाद ये पहला कुंभ होगा जिसमें गंगा का शुद्ध जल सभी श्रद्धालुओं को मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राम की नगरी अयोध्या में समरसता कुंभ आयोजित हुआ जिसके बाद प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चौथा वैचारिक ‘युवा कुंभ’ आयोजित हो रहा है।

उन्होंने कहा कि 12 से 15 करोड़ लोग हर बार कुंभ में आते हैं जिनमें किसी भी तरह की कोई अंतर नहीं किया जाता चाहे वो किसी भी जाति के हों। कुंभ आयोजन में पूरा देश बिना किसी आमंत्रण के प्रयाग की धरती पर आता है। सीएम योगी ने कहा कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा युवा भारत में हैं और इस युवा शक्ति ने पूरी दुनिया में शक्ति और ऊर्जा का प्रदर्शन किया है। ये शक्ति राष्ट्र हित में लाभदायक सिद्ध होती है। अगर दुनिया का सबसे युवा देश भारत है तो देश का सर्वाधिक युवा उत्तर प्रदेश में हैं।