चीन ने अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो के बयान पर कहा- ‘अनैतिक हमला’

बीजिंग। चीन ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो के बयान की आलोचना करते हुए गुरुवार को कहा कि यह बीजिंग पर ‘अनैतिक हमला’ है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने चीन पर ताजा हमला किया है। पोम्पियो ने बुधवार को चीन पर अमेरिका के प्रति वास्तव में शत्रुतापूर्ण रवैया रखने का आरोप लगाते हुए उसपर कई मोर्चों पर दबाव बनाने की बात कही थी।

पोम्पियो के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता गेंग शुआंग ने पत्रकारों से गुरुवार को कहा कि इससे अमेरिका के ‘अहंकार और भय’ का खुलासा होता है। यह जानबूझकर तथ्यों को विकृत करने और चीन की घरेलू और विदेश नीति को बदनाम करने की कोशिश की है। इससे कुछ अमेरिकी राजनीतिज्ञों की पक्षपातपूर्ण एवं कम्युनिस्ट विरोधी मानसिकता का खुलासा होता है।

गेंग ने कहा कि पोम्पियो का बयान चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और चीन की सरकार पर अनैतिक हमला है। उल्लेखनीय है कि न्यूयॉर्क स्थित रूढ़िवादी हडसन इंस्टीट्यूट में पोम्पियो ने हांगकांग प्रदर्शन पर चीन की कार्रवाई, उइगर मुस्लिमों की कैद को रेखांकित करते हुए कहा था कि बीजिंग दुनिया में अपना प्रभुत्व चाहता है। उन्होंने कहा था कि अमेरिका लंबे समय तक चीन के साथ इस उम्मीद से चला कि वह बदल जाएगा। पोम्पियो ने कहा कि आज हमें अंतत: एहसास हुआ है कि सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी वास्तव में किस हद तक अमेरिका और हमारे मूल्यों की दुश्मन है।