संभल के चंदौसी में सिपाहियों की हत्या कर बन्दी फरार, कई जिलों में हाई अलर्ट

संभल । यूपी में गुंडाराज चरम पर है । अब बदमाशों के हौसले इतने बुलन्द हो गए हैं कि पुलिस सुरक्षा से भी फरार हो रहे हैं । मुरादाबाद जोन से तीन बंदियों ने दुर्दांत वारदात को अंजाम दिया है जिसने यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं । चन्दौसी न्यायालय में पेशी के बाद वापस मुरादाबाद जेल ले लाए जा रहे तीन बंदी वैन में मौजूद दो सिपाहियों की हत्या कर फरार हो गए। बंदियों ने योजनाबद्ध तरीके से सबसे पहले सिपाहियों की आंख में मिर्च पाउडर डाला, उसके बाद उन्हें अपने पास मौजूद पिस्टल और तमंचे से गोली मार दी। इससे दोनों सिपाहियों की मौके पर ही मौत हो गई। बदमाश दोनों सिपाहियों की रायफल लेकर फरार हो गए। घटना सम्भल जिले के चन्दौसी थानाक्षेत्र में शाम को करीब पांच बजे की है।

बिजनौर के रहने वाले थे सिपाही-
आरोपितों के हमले में मारे गए दोनों सिपाहियों के नाम हैं हरेंद्र पुत्र शिवचरन सिरोही निवासी चंदपुरा कोतवाली देहात जनपद बिजनौर और ब्रजपाल निवासी तेलोन गली थाना बिजनौर हैं। इनकी तैनाती सम्भल पुलिस लाइन में थी। उनकी ड्यूटी मुरादाबाद जेल से बन्दियों को ले जाने वाली वैन में लगाई गई थी। बुधवार सुबह बंदियों की वैन में चार अन्य सिपाहियों के साथ हरेंद्र और ब्रजपाल सम्भल जिले के चन्दौसी स्थित दीवानी न्यायालय के लिए चले थे। वैन में 24 बंदी सवार थे।

पेशी के बाद शाम को वे बंदियों को लेकर मुरादाबाद लौट रहे थे। सम्भल जिले के बनियाठेर थानाक्षेत्र के देवाखेड़ा गांव के पास चलती वैन में अचानक तीन बंदियों ने सिपाहियों की आंख में मिर्च पाउडर डाल दिया और उन पर अपने पास छुपाकर रखे गए पिस्टल और तमंचे से ताबड़तोड़ फायङ्क्षरग कर दी। बताया जाता है कि बदमाशों के तीन से चार साथियों ने बाहर से भी वैन पर फायरिंग की है। बदमाशों ने सात से आठ राउंड गोली चलाई, जिससे दोनों सिपाहियों की मौके पर ही मौत हो गई।

गोली चलने के बाद लगभग सौ मीटर आगे जाकर ड्राइवर ने वैन रोक दी। इसके बाद तीनों बदमाशों ने खुद ही वैन का दरवाजा खोल दिया और भाग गए। वैन में मौजूद कांस्टेबल खूब सिंह ने मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों को फिलहाल यही जानकारी बताई है। उसने यह भी बताया है कि बाहर से तीन-चार लोगों ने भी फायङ्क्षरग करके बंदियों को छुड़ाने में मदद की है। फरार बदमाशों के पास चाकू भी था। बदमाशों के फरार होने के बाद शेष बन्दी वैन के पास ही रहे। वैन में मौजूद चार अन्य पुलिस कर्मियों से पूछताछ की जा रही है। पूरे क्षेत्र में पुलिस ने घेरेबन्दी कर रखी है।