चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति के घर पर सीबीआई मारा छापा

चेन्नई। केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने के लिए कथित तौर पर एक कंपनी की तरफदारी करने के मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति चिदंबरम से जुड़े अनेक परिसरों पर आज छापे मारे। दिल्ली में आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि ये छापे मुंबई, दिल्ली, चेन्नई और और गुरूग्राम में मारे गए। चेन्नई में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि चेन्नई में पी चिदंबरम के नुंगमबक्कम आवास पर भी छापे मारे जा रहे हैं।
अपुष्ट रिपोर्ट के अनुसार चिदंबरम के पैतृक शहर कराईकुड़ी में भी छापे मारे जा रहे हैं। सीबीआई ने एक कंपनी को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने के मामले में हाल ही में मामला दर्ज कराया है। आरोप हैं कि कंपनी को लाभ तब पहुंचाया गया जब पी चिदंबरम वित्त मंत्री थे।
छापों के बारे में पूछे जाने पर पी चिदंबरम ने कहा, ‘‘आपको अपने सीबीआई मित्रों से बात करनी चाहिए थी..क्या मैं (सरकार के खिलाफ) लिखना बंद कर दूं?’’ चिदंबरम ने कहा कि वह चेन्नई में नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मतलब है.. यह पूरी तरह बकवास है।’’ केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के धुर विरोधी पी. चिंदबरम पहले कह चुके हैं कि उनके अथवा उनके पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज करा कर केन्द्र के खिलाफ उनकी आवाज को दबाया नहीं जा सकता।