बुलंदशहर : जिला जज की पुस्तक ‘वादो का बढता अंबार-सब मिकर ढूंढे उपचार’ का हुआ विमोचन

शुभम अग्रवाल/ बुलंदशहर | जिला जज ओम प्रकाश अग्रवाल ने कहा है कि विभिन्न न्यायालयो में लंबित हजारो मुकदमो के आपसी सुलह सफाई समझौता से निस्तारण में अधिवक्ता और जिला प्रशासन अपनी महत्तवपूर्ण भूमिका का निर्वाह करे जिससे गरीब को सस्ता सुलभ न्याय मिल सके। कचहरी परिसर स्थित सभागार में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित खुला विचार मंथन सम्मेलन के मुख्य अतिथि व प्राधिकरण के अध्यक्ष जिला जज ओमप्रकाश अग्रवाल मंगलवार को मध्यस्थता सर्वोतम विकल्प व अधिवक्ताओ की महत्ती भूमिका एवं दायित्व विषय पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होने कहा कि 1987 में लोक अदालतो का गठन अदालतो मेंबढते मुकदमो की संख्या को रोकने के उददेश्य से विकल्प के रूप में किया गया था। इसके बावजूद अदालतो में दिन प्रतिदिन मुकदमो की संख्या निरंतर बढती जा रही है। जिनमें कुछ ऐसे भी मुकदमे है जिन्हे दोनो पक्षो को आमने सामने बिठाकर सुलह समझौता से निपटाया जा सकता है। इस मामले में जिला प्रशासन के साथ अधिवक्ताओ को पूरी निष्पक्षता व कर्मठता से अपना योगदान देना होगा तभी पीडित व गरीब को आसानी से सस्ता न्याय सुलभ हो सकेगा। उन्होने बताया कि लोक अदालत के माध्यम से वादो का निपटारा एवं मध्यस्था केन्द्र के माध्यम से आपसी सुलह समझौता के आधार पर विभिन्न प्रकार के मामले सुलझाये जा सकते है। विवादो के वैकिल्प एवं त्वरित समाधान की विभिन्न प्रक्रियाओ के बारे में आमजन का जागरूक करने के लिये अधिवक्ताओ व जिला प्रशासन को अपनी भूमिका का निर्वाह करना होगा।जिला जज ने बताया कि उन्हे प्रशासनिक न्यायमूर्ति शबीहुल हसनैन का आशिर्वाद प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से प्राप्त है। उन्होने इस सामाजिक कार्य मेंसहयोग की अपील की।

इससे पूर्व जिलाधिकारी डा. रोशन जैकब ने वादकारियो के मसलो को सुलह समझौता से निपटाने में मध्यस्थ की भूमिका का निर्वाह करने वाले व्यक्ति का निष्पक्ष होना आवश्यक बताया है साथ ही कहा कि बहुत सारी ऐसी समस्याए है जिनका समाधान दोनो पक्षो को आमने सामने बिठाकर किया जा सकता है इसमें वकीलो की भूमिका महत्तपूर्ण होगी। वातावरण निष्पक्ष होने से ही समाधान संभव है अन्यथा दूषित परिणाम भी आ सकते है। इस मौके पर वैवाहिक सम्पत्ति बटवारा विवाद,मकान मालिक किराये दार विवाद को निपटाने पर बल दिया गया। कार्यक्रम का सफल संचालन शेर और शायरी के बीच अपर जिला जज नोडल अधिकारी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण हुसैन अहमद अंसारी ने किया साथ ही लोक अदालत परामर्श केन्द्र के माध्यम से वादकारियो को सस्ता न्याय दिलाने की दिशा में न्यायिक ,प्रशासनिक अधिकारियो एवं अधिवक्ताओ से अपील की। इस मौके पर जिला एवं कलैक्ट्रेट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुमन सिंह राघव, एनआरईसी कालिज खुरजा के कानून विभाग के हैड मौहम्मद इरशाद खान,प्राधिकरण के सचिव ऋषिकुमार,रामपाल शर्मा,सत्यदेव शर्मा, अनिल कुमार गौड,सचिव अनिल कुमार,मनवीर सिंह लोधी,संजीव चैधरी,अरूण कुमार,विरेन्द्र कुमार,देवेन्द्र कुमार,मनुराज सिंह,मनोज बैरी आदि सैकडो अधिवक्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम से पूर्व आजाद पब्लिक स्कूल की छात्राओ ने मनोहारी स्वागत गान प्रस्तुत किया। तत्पश्चात जिला जज द्वारा लिखित पुस्तक वादो का बढता अंबार सब मिलकर ढूंढे उपचार का विमोचन किया गया तथा जिला जज ने दीप प्रज्जवलित कर
कार्यक्रम को शुभारंभ किया।