बदायूं में जिला-ए-काजी के जनाजे में उमड़ी हजारों की भीड़, कोरोना गाइडलाइन की उड़ीं धज्जियां, FIR दर्ज

बदायूं | बड़ी खबर यूपी के बदायूं से है | रविवार तड़के दरगाह आलिया कादरिया के सज्जादा नशीन काजी-ए-जिला शेख अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिमुल कादरी के जनाजे में मुरीदों की इस कदर भीड़ उमड़ी कि सामाजिक दूरी तो अलग मास्क के नियम भी टूट गए। पुलिस और जिला प्रशासन कुछ नहीं कर सका। जब सोशल मीडिया पर भीड़ का वीडियो वायरल हुआ तो सदर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात भीड़ के खिलाफ कोविड-19 और कर्फ्यू उल्लंघन के आरोप में एफआईआर दर्ज कर ली है।

दरगाह आलिया कादरिया के सज्जादा नशीन काजी-ए-जिला शेख अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिमुल कादरी का पूरा जिला मुरीद था। रविवार तड़के जब लोगों को उनके जाने की खबर मिली तो लोग गम में डूब गए। उनके इंतकाल का समाचार जिले में आग की तरह फैल गया था। इससे जिलेभर से हजारों की संख्या में लोग उनके घर पर पहुंचना शुरू हो गए। सुबह नौ बजे तक भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि लोगों को अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया।  सभी चाहने वाले उनके आखिरी दर्शन करना चाहते थे। इससे उनके बीच धक्कामुक्की तक हो गई। उनकी अंतिम यात्रा के दौरान हजारों की संख्या में लोग पीछे चल रहे थे। उनके जनाजे को कांधा देने वालों की कमी नहीं थी। पूरी सड़क फुल हो गई। कब्रिस्तान तक में पैर रखने की जगह नहीं थी। ये भीड़ देखकर पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर सका, लेकिन रविवार रात सदर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात भीड़ के खिलाफ धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज कर लिया। इंस्पेक्टर देवेंद्र कुमार धामा ने बताया कि अज्ञात भीड़ के खिलाफ एफआईआर लिख ली गई है। आगे की कार्रवाई उच्चाधिकारियों के आदेश पर कराई जाएगी।