AMU में रैगिंग रोकने के लिए टीम गठित, इनको मिली जिम्मेदारी-

अलीगढ़ । अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के जेएन मेडिकल कॉलेज की फैकल्टी ऑफ मेडिसिन में रैगिंग की शिकायतों से निपटने के लिए 16 सदस्य एंटी रैगिंग कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी रैगिंग के मामलों पर अंकुश लगाने का काम करेगी। एएमयू जनसंपर्क अधिकारी सलीम उमर पीरजादा ने बताया कि समिति के सदस्यों में जेएन मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल प्रोफेसर शाहिद अली सिद्दीकी, डेंटल कॉलेज के प्रिंसिपल प्रोफेसर आरके तिवारी, पैरामेडिकल कॉलेज ऑफ नर्सिंग के प्रिंसिपल समिति के समन्वयक बनाए गए हैं।

इसके अलावा समिति में पैथोलॉजी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर एसएच आरिफ, आर्थोपैडिक सर्जरी विभाग के प्रोफेसर नैयर आसिफ, प्रसूति एवं स्त्री रोग विभाग की प्रोफेसर शाहीन, पीरियोडान्टिक्स विभाग के प्रोफेसर एनडी गुप्ता, एनाटामी विभाग के प्रोफेसर एस मुबाशिर यूनुस, फिजियोलाजी विभाग की प्रोफेसर संगीता सिंघल, सामुदायिक चिकित्सा विभाग के प्रोफेसर एम अथार अंसारी, बायोकेमिस्ट्री विभाग के प्रोफेसर मोइनुद्दीन, आफ्थलमोलॉजी विभाग के डा. जिया सिद्दीकी, फारेंसिक मेडिसिन विभाग के डा. मोहम्मद कलीम खान, ओरल पैथोलाजी, ओरल मेडिसिन एंड रेडियोलाजी विभाग के डा. मसूद एच खान, कालेज आफ नर्सिंग की डा. पामेला जे शालिनी और पैरा-मेडिकल कालेज के डा. रिजवान अहमद शामिल हैं ।