AMU में निष्कासित छात्र को गोली मारने का CCTV फुटैज वायरल, कैंपस में भय का माहौल

अलीगढ | एएमयू के आरएम हॉल के गेट पर रविवार आधी रात को डिप्लोमा (फाइनल ईयर) कंप्यूटर साइंस के छात्र के सीने में गोली मार दी गई। हमलावरों ने दरबान पर भी फायर झोंके। जख्मी छात्र का जेएन मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा है। घटना का CCTV फुटैज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है । घटना से छात्रों में भय का माहौल है ।

इस घटना में सीसीटीवी के आधार पर एक नामजद एएमयू छात्र सहित दो-तीन पर सिविल लाइन में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

एएमयू छात्र रिजवान खान का कहना है कि वह कमरे में सो रहा था कि अचानक उसके मोबाइल पर रात्रि 2:24 बजे कॉल आई कि मैं शैजी बोल रहा हूं। आरएम हॉल के गेट पर आओ। जब वह नीचे आया तो शैजी बहस एवं गाली गलौज करने लगा। इसी बीच उसने तमंचे से सीधे सीने पर गोली मार दी। उसके साथ दो-तीन लोग थे। पहले वह गिर गया, फिर उठकर आरएम हॉल के ए ब्लाक की तरफ भागा। हॉस्टल के लड़कों ने उसे जेएन मेडिकल कॉलेज पहुंचाया।

इस दौरान आरोपी हॉल के दरबान वसी के ऊपर फायर करते हुए भाग गए। इस घटना के बाद आरएम हॉल सहित कैंपस में खलबली मच गई है। एसएसआई सिविल लाइंस योगेश गौतम के अनुसार सीसीटीवी के आधार पर नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है।

एएमयू प्रॉक्टर प्रो. अफीफुल्लाह खान ने कहा है कि गोलीकांड में जख्मी रिजवान का उपचार मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। एएमयू छात्र शैजी सहित अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। रिजवान को तीन शैक्षणिक सत्र के लिए डिबार किया गया था। पता किया जा रहा है कि वह आरएम हॉल में कैसे रह रहा था।