बुलंदशहर में BJP की शानदार जीत, सपा-RLD गठबंधन और कांग्रेस सहित 16 की जमानत जब्त

बुलंदशहर। सदर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव मेें एक बार फिर कमल ने अपना परचम लहराया है। भाजपा प्रत्याशी उषा सिरोही ने 21 हजार 702 वोटों से जीत दर्ज की है। बसपा प्रत्याशी हाजी यूनुस दूसरे नंबर पर रहे। चंद्रशेखर की पार्टी आसपा के प्रत्याशी यामीन ने बसपा के वोट बैंक में खूब सेंध लगाई और वह तीसरे नंबर पर रहे। रालोद-सपा गठबंधन और कांग्रेस समेत 16 प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई।

भाजपा विधायक वीरेन्द्र सिरोही के निधन से खाली हुई बुलंदशहर सदर विधानसभा सीट पर तीन नवंबर को उपचुनाव हुआ था। भाजपा ने दिवंगत विधायक वीरेंद्र सिंह सिरोही की पत्नी उषा सिरोही को प्रत्याशी बनाया। बसपा ने पूर्व विधायक मरहूम हाजी अलीम के भाई और सदर ब्लॉक प्रमुख हाजी यूनुस को मैदान में उतारा। रालोद ने सपा के साथ गठबंधन में प्रवीण कुमार सिंह को, कांग्रेस ने सुशील चौधरी को और आसपा ने हाजी यामीन को टिकट दिया। कुल 18 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा और कुल 3 लाख 88 हजार 508 मतदाताओं में से 2 लाख 2 हजार 641 मतदाताओं ने वोट डाले। इनमें 289 मतों को रिजेक्ट हो गए। मंगलवार सुबह आठ बजे मतगणना प्रारंभ हुई। भाजपा प्रत्याशी उषा सिरोही ने पहले राउंड से ही बढ़त बना ली। उषा सिरोही को कुल 88,645 मत हासिल हुए। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बसपा के हाजी यूनुस को 21,702 मतों से मात दी । हाजी यूनुस को कुल 66,943 मत हासिल हुए हैं। तीसरे स्थान पर रहे आसपा प्रत्याशी हाजी यामीन को 13,530 मत मिले। कांग्रेस के सुशील चौधरी 10,319 मत प्राप्त कर चौथे स्थान पर रहे। उपचुनाव में गठबंधन के प्रत्याशी प्रवीण कुमार सिंह 7286 मत हासिल कर पांचवें स्थान पर रहे।