लोकसभा चुनाव : चंदौली में भिड़े BJP और SP कार्यकर्ता, भाजपा विधायक साधना ने पुलिसकर्मी से डंडा छीना

वाराणसी | लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में रविवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पूर्वी उत्तर प्रदेश के 11 जिलों में 13 संसदीय सीटों पर मतदान सुबह सात बजे से जारी है। वहीं उत्तर-प्रदेश की चंदौली लोकसभा सीट पर बीजेपी और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भिड़ गए। पुलिस ने दोनों पार्टियों को हटाने के लिए हल्का बल प्रयोग भी किया।

बताया जा रहा है कि चंदौली में मुगलसराय के परशुरामपुर मतदान केंद्र पर भाजपा-सपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। दोनों पार्टियों के कार्याकर्ताओं में मतदान केंद्र में पार्टी का झंडा टांगने को लेकर विवाद शुरू हुआ था और बाद में नौबत मारपीट तक आ गई। पुलिस ने दोनों दलों के कार्यकर्ताओं को हटालने के लिए हल्का बल प्रयोग किया जिसमें तीन लोग घायल हो गए है।

लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश की 13 सीटों पर रविवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया और शुरूआती दो घंटे में 10.06 प्रतिशत मतदान हुआ। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के मुताबिक शुरूआती दो घंटे में नौ बजे तक महाराजगंज में 8.90 प्रतिशत, गोरखपुर 11.07, कुशीनगर 9.30 प्रतिशत, देवरिया 11.02, बांसगांव 9.87, घोसी 9.45,सलेमपुर 9.24, बलिया 8.70, गाजीपुर 10.75, चंदौली 10.18, वाराणसी 9.90, मिर्जापुर 13.20 और राबर्टसगंज में 9.15 प्रतिशत मतदान हुआ।

इस चरण में वाराणसी के अलावा गाजीपुर, मिर्जापुर, महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सलेमपुर, बलिया, चंदौली और रॉबट्र्सगंज सीटों के लिये मतदान हो रहा है। इस चरण में कुल 167 प्रत्याशी मैदान में हैं। सातवें चरण में प्रधानमंत्री मोदी के अलावा केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा (गाजीपुर), अनुप्रिया पटेल (मिर्जापुर), प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय (चंदौली), पूर्व केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री आर.पी.एन. सिंह (कुशीनगर) जैसी सियासी हस्तियों के भाग्य का फैसला होगा। सबकी निगाहें प्रधानमंत्री मोदी के निर्वाचन क्षेत्र बनारस पर लगी हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा के पक्ष में चली लहर का केन्द्र बने मोदी ने करीब तीन लाख 72 हजार मतों से यह सीट जीती थी। इस बार भी उनकी जीत सुनिश्चित मान रही भाजपा के सामने मोदी को पिछली दफा के मुकाबले अधिक मतों से जिताने की चुनौती है।