बिप्लब देब की शपथ पर पीएम मोदी बोले- त्रिपुरा में आज दिवाली

नई दिल्ली| त्रिपुरा के भाजपा अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण कर ली है। बिप्लब के शपथ लेते ही 70 सालों में पहली बार पूर्वोत्तर राज्यों में कमल का फूल खिल चुका है और यहां भाजपा की सरकार सत्ता में आ गई है। इस मौके पर पीएम मोदी भी त्रिपुरा पहुंचे। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत स्थानीय भाषा में की। पीएम मोदी ने कहा कि आज त्रिपुरा में फिर से दिवाली आयी है। त्रिपुरा में आज विकास का दीप, एक नयी उमंग और नया उत्साह पैदा हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद सिर्फ विकास और विकास ही है। पीएम मोदी ने कहा कि देश में इतने प्रधानमंत्री बने लेकिन कोई नॉर्थ ईस्ट नहीं आए। लेकिन मैं यहां सबसे ज्यादा आया हूं। उन्होंने कहा कि हर हिंदुस्तानी नॉर्थ ईस्ट के साथ जुड़ा हुआ है यह देश की बहुत बड़ी ताकत है। हमें जहां भी काम करने का मौका मिला, सरकार बनाने का मौका मिला हम वहां गए हैं। हम सबका साथ सबका विकास की तर्ज पर पूरे देश में काम कर रहे हैं। उन्होंने इस मौके पर त्रिपुरा वासियों को धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा कि सरकार किसी की भी हो लेकिन जनता जनार्दन सिर्फ देश की होती है। पीएम मोदी ने कहा कि हम उन लोगों के लिए भी काम करेंगे जिन्होंने हमें वोट नहीं दिया है। बता दें की बिप्लब देब के साथ 9 अन्य विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली है। बिप्लब देब के बाद जिष्णु देब बर्मन ने शपथ ली, वह राज्य के उप मुख्यमंत्री होंगे। नरेश चंद्र देब बर्मा, रतनलाल नाथ, सुदीप राय बर्मन, प्रांजित सिंह रॉय, मनोज कांति देब, मेवाड़ कुमार जमातिया, सांत्वना चकमा ने भी शपथ ली।

शपथ ग्रहण समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, लाल कृष्ण आडवाणी कई केंद्रीय मंत्री सहित भाजपा शासित कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी इस समारोह में मौजूद रहे। इस शपथ ग्रहण समारोह की खासियत यह है कि इसमें पूर्व सीएम माणिक सरकार भी पहुंचे हैं। गुरुवार को माणिक सरकार को निमंत्रण देने के लिए खुद बिप्लब और बीजेपी महासचिव राम माधव उनके घर पहुंचे थे। राज्य की 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 35 सीटें मिली हैं और उसकी चुनावी सहयोगी आईपीएफटी को आठ सीटें मिली हैं। बिप्लब देब वर्तमान में त्रिपुरा भाजपा के अध्यक्ष हैं। उनकी क्षमता में विश्वास जताते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 9 मई 2015 को उन्हें त्रिपुरा के लिए जन संपर्क अभियान का प्रमुख बनाया था। उनकी कार्यकुशलता को देख शाह ने उन्हें 6 जनवरी 2016 को त्रिपुरा भाजपा का अध्यक्ष बनाया। बिप्लब का जन्म 29 नवंबर 1971 को गोमती त्रिपुरा के राजधर नगर में हुआ था। परिवारिक पृष्ठभूमि राजनीतिक रही है, इसलिए बचपन से ही बिपल्ब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए। संघ में विभिन्न जिम्मेदारियों का निर्वाह करते हुए बिप्लब ने संघ की प्रथम वर्ष शिक्षा भी ग्रहण की है। उनके पिता हीरूधन देब त्रिपुरा में जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में एक रहे।