बिहार : उप मुख्यमंत्री के जिले में शराबबंदी के बाद भी बढ़ा अपराध !

रवीश कुमार मणि,  पटना । सूबे में शराबबंदी के बाद सरकार अपराध में कमी आने की बात दोहराते आयी हैं ।लेकिन उपमुख्यमंत्री के गृह जिले की बात करें तो यहाँ अपराध बढ़ा और पुलिस मुख्यालय के लिए चिंता का विषय हैं ।हालाँकि एडीजीपी जानकारी नहीं होने की बात कहीं हैं ।और कहें की जिले से पता कर ही स्पष्ट कर सकते हैं ।  अपराध समीक्षा को लेकर हाल के ही दिनों में पुलिस मुख्यालय में बैठक हुई ।

बीते वर्ष 2016 मार्च पूर्व की अपराध एवं वर्तमान वर्ष 2017 मार्च के पूर्व के अपराध की समीक्षा की गयी । इसी समय अंतराल में बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू हुई हैं । सड़क दुर्घटना ,महिला उत्पीड़न के अपराध में जहां बिहार में भारी कमी देखने को मिली हैं वहीं पुलिस सुत्रों की बात करें तो बिहार के 38 में से  18 जिले में हत्या ,लूट, चोरी की घटनाओं में इजाफा देखा गया हैं । इसमें बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का गृह जिला वैशाली भी शामिल हैं ।वैशाली में खासकर हत्या एवं लूट के मामले में वृद्धि पाया गया हैं । वहीं बगल के सारण जिले का भी स्थिति गंभीर अपराध में चिंताजनक हैं । अपराधियों ने कई बैंक लूट तक को अंजाम दिया है। बात करें तो दोनों जिला के पुलिस बढ़ते अपराध को रोकने में नाकाम रहें हैं ।   एडीजीपी एसके सिंघल ने कहां की हमें जानकारी नहीं हैं आप किस तरह के बढ़ते अपराध की बात कर रहें हैं । पता कर बताएंगे।जहां तक बात हैं शराबबंदी के बात अपराध की घटनाएं में कमी आयी हैं ।जिस जिले की बात कर रहें हैं वहां के पुलिस अधीक्षक से जानकारी लेकर ही स्थिति स्पष्ट की जा सकती हैं ।