बिहार की CM उम्मीदवार पुष्पम प्रिया की नहीं बचेगी जमानत

पटना | प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी बिस्‍फी और बांकीपुर विधानसभा की दोनों सीटों से पीछे चल रही हैं। बिस्‍फी व बांकीपुर विधानसभा सीट पर मतगणना शुरू हो चुकी है। अब रुझान आने लगे है। बिस्फी में जहां मुख्य मुकाबला राजद के फैयाज अहमद और भाजपा के हरीभूषण ठाकुर के बीच बताया जा रहा है। वहीं बांकीपुर में मुख्य मुकाबला कांग्रेस के लव सिन्हा और भाजपा के नितिन नवीन के बीच है। पुष्पम को बिस्‍फी से 8 राउंड के बाद केवल 243 व बांकीपुर से 3 राउंड में 389 वोट मिले

बांकीपुर में दूसरे चरण में तीन नवम्‍बर को वोट पड़े थे। यहां कुल 35.85% वोट पड़े। बिस्‍फी में तीसरे चरण में सात नवम्‍बर को वोट पड़े थे। 2015 के विधानसभा चुनाव में यहां से राजद के फैयाज अहमद ने लगातार दूसरी बार विधायक चुने गए थे। इस बार यह सीट इस बार काफी हाईप्रोफाइल हो गई है। इसका कारण है कि इस बार इसी सीट से प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी भी चुनावी मैदान में हैं।

मधुबनी जिले के बिस्फी विधानसभा क्षेत्र का खासा महत्व है। बिस्फी मैथिल कवि कोकिल विद्यापति की जन्मस्थली के तौर पर मशहूर है। इस सीट का लोकसभा क्षेत्र मधुबनी लोकसभा क्षेत्र ही है। इस सीट पर अब तक कुल 13 बार विधानसभा का चुनाव हुए हैं, जिसमें 5 बार सीपीआई, 3 बार कांग्रेस और दो बार राजद के प्रत्याशी चुनाव जीत चुके हैं। पहली बार 1967 में चुनाव हुआ। तब यहां से कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के नेता आरके पूर्बे को जीत मिली थी। उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी नूरिद्दीन को हराया था।