BJP के दबाव में है संतकबीरनगर प्रशासन, जिले में सदर MLA जय चौबे का आतंक : RLD

लखनऊ । राष्ट्रीय लोकदल ने संतकबीरनगर में भाजपा नेताओं के कहने पर प्रशासन द्वारा कार्य करने का आरोप लगाया है । रालोद के राष्ट्रीय सचिव गंगा सिंह सैंथवार ने कहा है कि जिले के गरीब और मजदूर वर्ग के साथ साथ आम लोगों पर हो रहे अत्याचारों के प्रति पुलिस प्रशासन आँख और कान बन्द किए हुए है । उन्होंने कहा है कि सदर विधायक दिग्विजय नारायण उर्फ जय चौबे का ताण्डव आतंक जिले में हैं ।

गंगा सिंह सैंथवार ने कहा कि ताजा उदाहरण खलीलाबाद कोतवाली से सम्बन्धित है जिसमें दिनांक 8अप्रैल की गम्भीर आपराधिक धाराओं मे दर्ज एफआईआर के अभियुक्त खुले आम घूम रहे हैं और पीड़ित पक्ष को धमकी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभियुक्तों को विधायक जी का संरक्षण प्राप्त है। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि दिनांक 3 अप्रैल की रात्रि में विनोद यादव, राजकुमार और उदय प्रताप अपने दस बारह साथियों के साथ ग्राम फरेन्द्रिया से पुलिसिया अन्दाज मे सरोज देवी के पति फूल चन्द्र मौर्य का मारते पीटते हुए अपहरण कर ले जाते हैं और सारी रात उनके साथ मारपीट के अलावा थूक चटाकर छोडा़ जाता है ।

उन्होंने कहा कि पीड़ित की रिपोर्ट काफी मशक्कत के बाद 8 अप्रैल को खलीलाबाद कोतवाली में दर्ज की हुई लेकिन अभियुक्तों की गिरफ्तारी आज तक नहीं हो हुई है । गंगा सिंह ने कहा कि लाकडाउन के बाद प्रदेश नेतृत्व के निर्देश के अनुसार पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए बाद आंदोलन किया जाएगा ।