अलीगढ में भाजपाइयों ने फाड़ी पुलिस की वर्दी, नोंचे सितारे, थाने से आरोपियों को छुड़ा ले गए BJP विधायक, इंस्पेक्टर लाइन हाजिर

अलीगढ | अलीगढ़ में पुलिस के लिए मंगलवार का दिन अमंगलकारी साबित हुआ। दो अलग-अलग स्थानों पर पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करते हुए वर्दी फाड़़ दी गई। थाना खैर के गांव उदयपुर में दारोगा-सिपाही से मारपीट करते हुए पॉक्सो एक्ट के आरोपी को उसके परिजन छुड़ा ले गए। वीडियो बना रहे सिपाही से मोबाइल छीनकर तोड़ दिया गया। दूसरी घटना में थाना गांधीपार्क थाना क्षेत्र के नौरंगाबाद में भाजपा कार्यकर्ता लैपर्डकर्मियों से मारपीट करते हुए वर्दी फाड़ दी। हैरत की बात है कि पुलिस से मारपीट के आरोपियों को भाजपा के तीन विधायक मारपीट के आरोपियों को थाने से ले गए।

थाना गांधीपार्क के नौरंगाबाद क्षेत्र में मुखिया जी की धर्मशाला में सोमवार रात को दावत चल रही थी। जहां वीरेन्द्र कुमार व मनीष में झगड़ा हो गया। सूचना मिलने पर लैपर्डकर्मी राजुकमार व अजय राज मौके पर पहुंच गई। आरोप है कि झगड़ा करने वालों को रोका गया तो मनीष कुमार पुत्र सुरेश चंद्र व अवधेश पुत्र महेश चन्द्र निवासी मानिक चौक ने हमलवार होते हुए लैपर्ड कर्मियों से मारपीट करते हुए गिरेबान पकड़कर धक्कामुक्की की। जिसमें वर्दी का बटन टूट गया। वहां मौजूद लोगों ने रोका, इसी दौरान सूचना दिए जाने पर थाने से फोर्स आ गई। आरोपियों को पुलिस थाने ले आई। इस मामले में एसआई संजीव कुमार की तरफ से थाना गांधीपार्क में भाजपा कार्यकर्ता मनीष व अवधेश के खिलाफ थाना गांधीपार्क में धारा 332, 353, 323 और 504 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोप है कि भाजपा विधायक संजीव राजा, अनिल पाराशर व रविन्द्र पाल सिंह वीरेन्द्र कुमार से हुए झगड़े में समझौता कराकर थाने से दोनों आरोपियों को ले गए।

दूसरी घटना थाना खैर के गांव उदयपुर की है। आरोप है कि मंगलवार को दारोगा वीरेन्द्र सिंह सिपाहियों के साथ पॉक्सो एक्ट के आरोपी अजित सिंह को पकड़ने गए थे। जहां आरोपी को पकड़ते ही उसके परिजनों ने पुलिस टीम से मारपीट करते हुए आरोपी को छुड़ा लिया। घटना की वीडियो बना रहे दारोगा से मोबाइल छीनकर तोड़ दिया। सूचना पर थाने से अन्य फोर्स के पहुंचने पर आरोपी फरार हो गए। मामले में दारोगा की ओर से बाबूलाल, अजय व सचिन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है |

एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि गांधीपार्क थाना क्षेत्र में मारपीट की सूचना मिली थी। चौकी इंचार्ज ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में लेकर थाने लाने का प्रयास किया तो आरोपी की ओर से बदसलूकी की गई। पुलिस से मारपीट करने के मामले में चौकी इंचार्ज की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उधर खैर में पॉक्सो एक्ट के आरोपी को पकड़ने गए पुलिस टीम से हुई मारपीट में मुकदमा दर्ज हो गया है।