गुस्से में बीबी को दिया तलाक़ तो खैर नहीं !

संभल। पीएम मोदी द्वारा मुस्लिम बुद्धजीवियो से तलाक के मसले में आगे आने का आव्हान करने का असर  आब दिखने लगा है संभल से इसकी शुरुआत हुई है  |गुस्से में तलाक देने वाले पतियों की खैर नहीं, क्योंकि अगर पति ने तलाक दिया तो किसी भी परिस्थितियों में गलती उसी की मानी जाएगी। दरअसल संभल के हाफिजपुर गांव में आयोजित एक पंचायत ने ये फैसला सुनाया है। यहां की तुर्क बिरादरी ने तीन तलाक पर नया फरमान जारी किया है। दरअसल पंचायत में तुर्क बिरादरी के लोगों ने गुस्से में तलाक देने पर गांव में पाबंदी लगा दी है। पंचायत का कहना है कि लड़ाई-झगड़ा होने पर आपस में मिलकर इसका हल निकाला जाए।संभल जिले के हाजीपुर गांव में तुर्क बिरादरी के लोगों की एक पंचायत हुई। जिसमे दर्जनों गांव के तुर्क बिरादरी के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। पंचायत में फरमान सुनाया गया कि अब गुस्से में बिरादरी का कोई भी शख्स तलाक नही देगा। अगर गुस्से, लड़ाई में तलाक देता है तो उसका जिम्मेदार पति को ही माना जाएगा।

पंचायत के चेयरमैन शाहिद हुसैन ने कहा कि आपस में लड़ाई-झगड़े के दौरान तलाक शब्द का इस्तेमाल न करें। अगर कोई बात होती है तो पंचायत में रखी जाए जिससे उसका समाधान हो सके।